Published On : Tue, May 18th, 2021

झिल्पी तालाब में डूबे पिता-पुत्र, जन्मदिन मनाने गया था परिवार

नागपुर. हिंगना के झिल्पी तालाब में सोमवार को पति-पत्नी और 2 बच्चे जन्मदिन मनाने गए. हंसी-खुशी परिवार जश्न मना रहा था लेकिन काल को कुछ और ही मंजूर था. तालाब में नहाने के लिए गए पिता-पुत्र पानी का अनुमान नहीं लगा पाए और डूबने लगे. कुछ लोग उन्हें बचाने भी गए लेकिन तब तक देर हो चुकी थी. दोनों की डूबने से मौत हो गई. मृतकों में टीपू सुलतान चौक, यशोधरानगर निवासी अब्दुल आसिफ अब्दुल गनी शेख (35) और उनके 12 वर्षीय बेटे अब्दुल चहबील का समावेश है.

सोमवार को आसिफ के छोटे बेटे का जन्मदिन था. कोरोना के चलते घर पर दोस्त-रिश्तेदारों को बुलाकर जश्न मनाना संभव नहीं था. इसीलिए आसिफ और उनकी पत्नी आसमा ने बच्चों के साथ ही घूमने जाने का प्लान बनाया. चारों मोटरसाइकिल पर झिल्पी तालाब परिसर पहुंचे और तालाब के किनारे बैठकर अल्पोहार लिया. तभी आसिफ ने तालाब में नहाने की इच्छा जाहिर की. आसमा ने उन्हें रोका भी लेकिन आसिफ के साथ चहबिल भी कपड़े उतारकर पानी में चला गया.

स्थानीय युवकों ने मां को बचाया
कुछ देर दोनों किनारे पर ही हाथ-पैर मारते रहे. झिल्पी तालाब समतल नहीं है. कहीं घुटने तक पानी है तो कहीं बड़े गड्ढे हैं. आसिफ गहराई का अनुमान नहीं लगा पाए और चहबिल के साथ डूबने लगे. दोनों को पानी में छटपटाते देख आसमा ने चीख-पुकार की. वह खुद दोनों को बचाने के लिए पानी में कूद गई लेकिन वह भी डूबने लगी. परिसर में मौजूद चरवाहे और कुछ युवक मदद के लिए दौड़ गए. उन्होंने आसमा को बचाकर पानी से बाहर निकाल लिया लेकिन आसिफ और चहबिल डूब गए. घटना की खबर मिलते ही परिसर के नागरिक जमा हो गए. काफी देर तक दोनों की खोज करने के बाद शव बाहर निकाले गए.


घटना की जानकारी मिलते ही इंस्पेक्टर सारीन दुर्गे और सपना क्षीरसागर अपने दल के साथ मौके पर पहुंचीं. जन्मदिन का खुमार मातम में बदल गया. तालाब के किनारे आसमा और उनके बेटे को रोते-बिलखते देख लोगों का अश्रुबांध भी फूट गया. कुछ मिनट पहले तक पूरा परिवार खुशी से झूम रहा था और कुछ पल में ही सारी खुशियां तहस-नहस हो गईं. पुलिस ने पंचनामा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज कर जांच आरंभ की गई है.