Published On : Sat, Jul 4th, 2020

स्वप्न भंग होने से बेचैन व अस्वस्थ हो गए हैं फडणवीस- गृहमंत्री

– वे मीडिया में सनसनी फैलाने का प्रयास करते रहते हैं।

नागपुर : राज्य में सत्ता स्थापित हुए छह महीने से ऊपर हो गए हैं। फिर भी सत्ता स्थापना के काल में हुई चर्चा को लेकर कुछ-न-कुछ तथ्यहीन बातों को कहकर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस मीडिया में सनसनी फैलाने का प्रयास करते रहते हैं। हाल ही के दिनों में फडवीस ने कहा था कि राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने भाजपा को न्यौता दिया था और भाजपा में शामिल होने को तैयार थे। ऐसा दावा करके फडणवीस ने सनसनी फैला दी थी।

फडणवीस द्वारा दिए गए इस बयान पर राज्य के गृहमंत्री व राष्ट्रवादी नेता अनिल देशमुख ने खुलासा किया है। एक चैनल को दिए साक्षात्कार में देशमुख ने कहा कि फडणवीस पूरी तरह से बेचैन व अस्वस्थ हो गए हैं। गृहमंत्री ने कहा कि शुरू में उन्होंने सरकार बनाने का स्वप्न देखा था लेकिन उनका स्वप्न भंग हो गया। इसके कारण इस प्रकार की बयानबाजी करके पुरानी बातें निकालते रहते हैं, जिसमें कोई तथ्य नहीं रहता है। कोरोना काल में महाविकास आघाड़ी की सरकार व्यवस्थित रूप से काम कर रही है। हमारे पुलिस विभाग, डॉक्टर्स दिन-रात काम कर रहे हैं।


ऐसे समय में तथ्यहीन पुरानी बातों को निकालकर माहौल खराब करने की अपेक्षा कोरोना की लडाई में सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करना चाहिए। ऐसा आह्वान देशमुख ने फडवीस से किया। इसी मुद्दे पर आगे बोलते हुए देशमुख ने कहा, “नहीं, भाजपा से राकांपा की चर्चा का कोई सवाल ही नहीं था। कांग्रेस और राकांपा शुरू से ही हमारे गठबंधन थे और हमने उसी तरह चुनाव लड़ा था।

उसके बाद शिवसेना हमारे साथ आई। ये तीनों पार्टियां महाराष्ट्र में अच्छे तरीके से सरकार चला रही हैं इसलिए देवेंद्र फडणवीस अस्वस्थ व बेचैन हैं औऱ तथ्यहीन बयान दे रहे हैं, ऐसा कटाक्ष देशमुख ने फडणवीस पर किया।