Published On : Wed, Oct 4th, 2017

जहरीली औषधि से हुई मौत का मुआयना करने पहुँचे मंत्री पर कीटनाशक फेकने का प्रयास

Sadabhau-Khot-Yavatmal
नागपुर/यवतमाल: जिले में जहरीली कीटनाशक औषधि के फसलों के छिड़काव की वजह से 18 मौत की घटना का मुआयना करने पहुँचे राज्य के कृषि राज्य मंत्री को किसानो के रोष का सामना भी करना पड़ा। कीटनाशक के दुष्प्रभाव को झेलने वाले लोगो को देखने अस्पताल पहुँचे मंत्री सदाभाऊ खोत पर सिकंदर खान नामक किसान ने उन पर औषधि फेंक कर अपनी नाराजगी व्यक्त करने का प्रयास किया।

जिले के शेतकरी वारकरी नामक संगठन से जुड़े इस किसान का प्रयास उनकी सुरक्षा में लगे सुरक्षा रक्षकों की वजह से कामियाब तो नहीं हुआ। लेकिन इस घटना ने इस पुरे मामले पर किसानो की सरकार से नाराजगी को जाहिर कर दिया। जुलाई से लेकर अब तक फसलों पर दवा के छिड़काव करने के मौसम में जहरीले कीटनाशक औषधि की वजह से 18 मौते हो चुकी है जबकि कई किसान और खेतहर मजदूर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती है।

अपने दौरे के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए कृषि राज्य मंत्री ने किसानो से जुड़े इस संवदेनशील मसले पर जिला प्रशाषन की बड़ी लापरवाही करार दिया। मंत्री के मुताबिक इस घटना से लोग प्रभावित होते है। लोग अस्पताल पहुँचे उनकी मौत भी हुई लेकिन स्वास्थ्य,कृषि,राजस्व जैसे विभागों ने इसकी जानकारी सरकार को नहीं दी। यह एक बड़ी लापरवाही है इस दौरे के बाद मुंबई पहुँचकर वह खुद इस बात की रिपोर्ट सरकार को देंगे। मंत्री ने इस मामले पर जाँच का आदेश भी जारी किया है। कृषि मंत्री ने इस मामले पर लापरवाही बरतने वाले अधिकारी और विभागों पर दोषी पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई करने की बात भी कही है।