Published On : Fri, Dec 1st, 2017

नागपुर यूनिवर्सिटी दीक्षांत समारोह में 769 पीएचडी व 56 हजार डिग्रियों का होगा वितरण

Nagpur University
नागपुर: नागपुर यूनिवर्सिटी का 104वां दीक्षांत समारोह 3 दिसंबर को रेशमबाग स्थित भट सभागृह में होगा. इस समारोह में अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद के अध्यक्ष डॉ. अनिल सहस्त्रबुद्धे कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद होंगे. कार्यक्रम की शुरुआत सुबह 10 बजे से होगी. नागपुर यूनिवर्सिटी के कुलगुरु डॉ. सिद्धार्थ विनायक काणे इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे.

यह जानकारी नागपुर यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित पत्र परिषद में दी गई. पत्र परिषद में प्र-कुलगुरु डॉ. प्रमोद येवले, कुलसचिव पूरनचंद्र मेश्राम और परीक्षा विभाग के नियंत्रक नीरज खटी मौजूद थे. इस दौरान येवले ने कहा कि इस बार के दीक्षांत समारोह में नागपुर यूनिवर्सिटी में कुल 2 डी.लिट, 769 पीएचडी, 12 हजार 878 पोस्ट ग्रेजुएट और 43 हजार 610 ग्रेजुएट डिग्रियां विद्यार्थियों को प्रदान की जाएंगी.

इस साल नागपुर यूनिवर्सिटी डॉ. मालती साखरे को पाली भाषा में शोध कार्य के लिए डी. लिट की डिग्री प्रदान करेगा. येवले ने जानकारी देते हुए बताया कि नागपुर यूनिवर्सिटी में पाली विभाग की शुरुआत 1958 में हुई थी. तब से लेकर अब तक पहली बार ही इस विषय पर किसी ने शोध करके डी. लिट उपाधि प्राप्त की है. उनके अलावा विद्याशाखा से डॉ.कादेरा तालीब शेख को भी डी. लिट प्रदान की जाएगी.

इस वर्ष के दीक्षांत समारोह में यूनिवर्सिटी 169 विद्यार्थियों को 296 गोल्ड मेडल, 42 विद्यार्थियों को सिल्वर मेडल और 100 पुरस्कार प्रदान करेगा. जी.एच. रायसोनी लॉ स्कूल के छात्र साहिल श्याम देवानी को 20 मेडल व पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे. जिसमें 13 गोल्ड, 4 सिल्वर और 3 पुरस्कारों का समावेश रहेगा. इसी तरह गोंदिया के धोटे बंधु विज्ञान महाविद्यालय की बीएससी की छात्रा निशा पिता देवानंद खोटले को 16 मेडल व गोल्ड मेडल प्रदान किया जाएगा. नागपुर के डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर विधि महाविद्यालय की तीन वर्षीय एलएलबी की छात्रा शीतल वासनिक को 14 मेडल और पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे.