Published On : Mon, Oct 7th, 2019

‘गोपाल मारो पारणिये झूले रे…’ पर झूमे भक्त

अष्टमी पर देखने मिला भक्तों का उत्साह

नागपुर: श्री नवरात्र महोत्सव मंडल, क्वेटा काॅलोनी, लकड़गंज के तत्वावधान में 45 वां रास गरबा महोत्सव बडे़ ही धूमधाम व उत्साह से मनाया जा रहा है। यहां प्रतिदिन एक से बढ़कर एक गरबा ग्रुप व सैकड़ों भक्तगण माता रानी के समक्ष गुजराती रास गरबा कर अपनी भक्ति प्रकट कर रहे हैं। अष्टमी पर रविवार को भक्तों का मेला सा लगा रहा व गरबे के लिए उत्स्फूर्त उत्साह देखने को मिला। प्रथम आरती आशीष कारिया, जीतेंद्र शुक्ला, रोहित सेजपाल, भरत पुरोहित, रमनिकीभाई शाह, डा. स्मिता ढोबले, डा. नियती मिरानी, डा. पराग कुलकर्णी, डा. हर्षा छांगानी सहित अन्य ने की। प्रतिदिन बाल गायक सांची पुरोहित, कुंजल हुड़िया, एक से बढ़कर एक गुजराती गरबा गीत बच्चों के गरबे के लिये प्रस्तुत कर रहे हैं। वहीं मधु भाई रायठट्ठा, जेनी भट, प्रणय कुथे, आकांशा नागरकर बड़ों के गरबे को आवाज दे रहे हैं। वीएनवी म्यूजिक ग्रुप के विश्वजीत पासेकर के मार्गदर्शन में गुजरती गीतों की जोरदार प्रस्तुति कर रहे हैं।

आज ‘गोपाल मारो पारणिये झूले रे…’, ‘जा जा जा जारे काड़ा कानुड़ा….’, ‘काली काली घेली तारी माया ना लगाड़….’ ने समां बांध दिया।गरबे के द्वार पर मुख्य आकर्षण के रूप में अमरावती से आए मूक बधिर कलाकार परेश पाटिल द्वारा भगवान गणेश, माता दुर्गा, रास गरबा के दृश्य की सुंदर रंगोली उकेरी जा रही है। जिसे देखने के लिये दर्शकों का भीड़ जुट रही है।

कार्यक्रम का सफल बनाने के लिये अध्यक्ष मुकेश कामवानी, महासचिव प्रफुल्ल गणात्रा, सचिव आकाश आचार्य, उपाध्यक्ष रामराज नाडार, अल्केश सेलानी, हरि सारडा, कोषाध्यक्ष भरत सोनी, सहसचिव गिरीश मेहता, राजू आचार्य, चंद्रकांत नथवानी, सहकोषाध्यक्ष विजय नाग्रेचा, आनंद कारिया, धनराज पुरोहित, कार्यकारिणी सदस्य किरीट वखारिया, आशीष नेब, महेश कंधारी, सुनील अग्रवाल, किशन वर्मा, रोहित सेजपाल, अनिल अग्रवाल, दीपक कमवानी, मनोज असावा, धर्मेंद्र आचार्य, मनोनित सदस्य किरीट कारिया, सुरेश पटेल, अजय कामदार, डाॅ. नरेश नेब, सलाहकार समिति के किशोर गणात्रा, विपिन वखारिया, विनोद नाग्रेचा, जमनादास कानाबार, राजू टांक, बाबू भाई पटेल, गोविंद हुडिया, स्थायी आमंत्रित सदस्य जीतेंद्र लाल, किरीट कक्कड़, परेश मेहता, विवेक शुक्ला, भरत पुरोहित, रवि नाडार, राजू माहेश्वरी, हंसमुख रायचड़ा, आशीष पलांदुरकर, सतीश गेदुरानी, जयेश रामखियानी, जयेश सेजपाल, गौरव बतरा, राधेश्याम चचड़ा, विराग जोशी, मनीष मनसाता, सुनील चचड़ा, अनिल मुनियाल, हर्षद लाखानी, भोला पटेल, मनीष हुडिया, विनय व्यास, निर्मल गुरिया, नितिन पारेख, गोपी वर्मा, भरत नाग्रेचा, करन वर्मा, राजकिशोर शाहू, चेतन सावला, दिनेश चचड़ा, प्रमोद हुडिया, संतोष शाहू, सागर वर्मा, राजेश डेगे अथक प्रयास कर रहे हैं।