Published On : Wed, Oct 8th, 2014

चंद्रपुर : चिमुर तालुका के अनेक गांव विकास से कोसों दूर


विधायक मितेश भांगड़िया ने सवा सौ गांवों का दौरा किया

Mitesh Bhangdiya
चंद्रपुर। राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज की तपोभूमि और क्रांतिभूमि रहे चिमुर तालुका के अनेक गांव अभी भी विकास से कोसों दूर हैं. सिंचाई के अभाव में इस क्षेत्र का विकास ठहरा हुआ है. विधायक मितेश भांगड़िया द्वारा विधानसभा क्षेत्र के गांवों का दौरा करने के बाद यह खुलासा हुआ है. उन्होंने ग्रामीणों से कहा है कि अब सिंचाई को प्राथमिकता दी जाएगी.

विधायक मितेश भांगड़िया अब तक कम से कम 120 गांवों का दौरा कर चुके हैं. उनकी शिकायतें सुन चुके हैं. उन्होंने कहा कि अब ग्रामीण उनके बेटे कीर्तिकुमार को बुलाकर उन्हें अपनी समस्याएं सुनाने लगी हैं. इस अवसर पर पूर्व जिला परिषद सदस्य अधि. नवयुग कामड़ी, पूर्व सभापति प्रकाश वाकडे, डॉ. दीपक यावले, अशोक कामड़ी, प्रदीप लोणकर, विजय झाडे, ज्ञानेश्वर शिरभैय्ये, गौतम नगराले, बकाराम मालोदे, राजू बलदुवा, संजय असावा प्रमुख रूप से उपस्थित थे.

Mitesh Bhangdiya
आज सुबह विधायक मितेश भांगड़िया ने बामणी पहुंचकर भाजपा के उम्मीदवार कीर्तिकुमार भांगड़िया के समर्थन में गुरुदेव सेवा मंडल के सभागृह में बैठक की.
एक बैठक तुकुम में भी ली गई, जहां विधायक मितेश भांगड़िया, ज्ञानेश्वर शिरभैय्ये, डॉ. दीपक यावले ने संबोधित किया. गांव के प्रतिष्ठित नागरिक नंदकिशोर खिरटकर और भाऊराव खिरटकर ने गांव की समस्या विशद की. ऐसी ही सभाएं ग्राम नन्दारा और काग में भी की गईं.