Published On : Fri, Apr 27th, 2018

केलीबाग मार्ग के फुटपाथ विक्रेताओं को बेदखल न करने की मांग


नागपुर: बडकस चौक से लेकर सीपी एंड बेरार कॉलेज तक केलीबाग मार्ग को ८० फुट चौड़ा करने के पक्ष में जब से सर्वोच्च न्यायालय ने फैसला दिया है, तब से मनपा प्रशासन द्वारा दिखाई जा रही उत्सुकता के चलते इस मार्ग पर व्यवसाय कर रहे सैकड़ों फुटपाथ विक्रेताओं में उनके भविष्य को लेकर चिंता की लकीरें उभरी हुई हैं. इस मामले को लेकर नागपुर जिला पथ विक्रेता संघ का शिष्टमंडल जम्मू आनंद के नेतृत्व में चौड़ाईकरण कम कर पथ विक्रेताओं के साथ न्याय की गुहार लगाई.

जम्मू आनंद के अनुसार एक ओर फुटपाथ विक्रेता अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं तो दूसरी ओर कोतवाली पुलिस उक्त पथ विक्रेताओं के साथ बदसलूकी कर रही है. व्यवसाय की सुरक्षा के लिए बनाए गए कानून से अनभिज्ञता की बात उक्त फुटपाथ विक्रेताओं ने केलीबाग मार्ग पर दौरे पर संघ के पदाधिकारियों से की. इस कानून के तहत प्रशासन उक्त पथ विक्रेताओं के साथ अन्याय नहीं कर सकता. उल्टे प्रभावितों के साथ न्याय करने पर प्रशासन का जोर, समय की मांग है.

इसके बावजूद मनपा प्रशासन और कोतवाली पुलिस ने उक्त प्रभावित पथ विक्रेताओं को परेशान व पथ विक्रेता अधिनियम २०१४ का उल्लंघन किया तो संघ उक्त प्रशासन के खिलाफ फौजदारी व न्यायालयीन कार्यवाही करेगी.