Published On : Fri, Aug 4th, 2017

एटीकेटी के विद्यार्थियों को एडमिशन देने की मांग को लेकर सीवाईएसएस प्रदर्शन

CYSS demonstrates
नागपुर:
 विद्यार्थियों को एटीकेटी के अंतर्गत एडमिशन देने की मांग को लेकर सीवाईएसएस के विद्यार्थियों ने नागपुर विश्वविद्यालय के भीतर धरना प्रदर्शन किया. दस दिन पहले सीवायएसएस द्वारा कुलगुरु को निवेदन सौंपा गया था और उस पर कुलगुरु ने विद्यार्थियों को एडमिशन देने का आश्वासन दिया था. लेकिन विद्यार्थियों को अब भी एडमिशन नहीं मिलने की वजह से यह धरना प्रदर्शन किया गया.

बीए, बीकॉम प्रथम वर्ष के वार्षिक परीक्षा पद्धति में एटीकेटी नियमानुसार तीसरे सेमिस्टर में प्रवेश दिया जाए इस मांग को लेकर सीवाईएसएस के विद्यार्थियों की ओर से 24 जुलाई को राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के कुलगुरु डॉ. सिध्दार्थविनायक काणे को निवेदन सौंपा था. क्योंकि शहर का कोई भी कॉलेज वार्षिक परीक्षा पद्धति के विद्यार्थियों को एटीकेटी अंतर्गत तीसरे सेमेस्टर में प्रवेश नहीं दे रहा है. विद्यार्थियों का कहना था कि नियम 12 2016 के अनुसार सभी पाठ्यक्रमों में एक ही नियम लागू है. पुराने पाठ्यक्रम के विद्यार्थियों को 5 मौके देकर तीसरे सेमेस्टर में प्रवेश दिए जाने की मांग की गई.

जिस पर विद्यार्थियों को प्रवेश और एडमिशन नहीं देने वाले कॉलेजों पर कार्रवाई करने का आश्वासन कुलगुरु की ओर से दिया गया था. लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से कोई भी कार्रवाई नहीं की गई. विद्यार्थी कॉलेज में जाकर रोजाना पूछताछ कर रहे हैं और कॉलेज को एडमिशन के लिए निवेदन कर रहे हैं. लेकिन अब भी विद्यार्थीयों को कॉलेज द्वारा एडमिशन नहीं दिया जा रहा है. जिसके कारण यह प्रदर्शन किया गया. इस प्रदर्शन में पीयूष अाकरे, कृतल अाकरे, अमित बदवाईक, अनुप खड्डकर, धीरज आगासे, प्रणव केदापुरे, तुषार वैरागडे, अनिकेत वाघाडे, जीतू मुरकुटे, आदित्य मुंजे, शुभम राना, पीयूष धापोडकर, सिद्धार्थ ढोले, शुभम धोपकर, हिना रखुंदे, कीर्ती दुबे, अनिता शंद्रे, दुर्गा शर्मा, मोहिनी मोड, अपूर्वा मोहाड, अपूर्वा वरेकर, मानसी मोगरे, रोशन शेंडे, सचिन सोंकुवर, शुभम बागडे मौजूद थे.