Published On : Mon, Apr 8th, 2019

धरमपेठ : क्रिकेट बुकी अजय राउत के फ्लैट पर छापा

Representational pic

नागपुर: क्राइम ब्रांच के यूनिट-3 ने गोपनीय जानकारी के आधार पर धरमपेठ के खरे टाउन की पॉश इमारत में स्थित क्रिकेट बुकी अजय राऊत के फ्लैट पर छापा मारा. पुलिस को जानकारी मिली थी कि फ्लैट में क्रिकेट सट्टे की खायवाली चल रही है. पुलिस ने राऊत के बेटे अंजिक्य सहित 4 लोगों को खायवाली करते रंगेहाथ गिरफ्तार किया. इस कार्रवाई से पूरे परिसर में खलबली मच गई. पकड़े गए आरोपियों में अजिंक्य अजय राऊत (21), रेणुकामातानगर निवासी संजय मारोतराव खरवड़े (40), ताजेश्वरनगर, हुड़केश्वर रोड निवासी निखिल मनोज राऊत (30) और म्हालगीनगर निवासी रोहित राधेश्याम खोब्रागड़े (24) का समावेश है.

आईपीएल शुरू होने के बाद से पुलिस की पहली बड़ी कार्रवाई है. धरमपेठ खरे टाउन की पॉश इमारत हितेश्री हाइट्स में अजय राऊत का फ्लैट है. पुलिस को जानकारी मिली थी कि राऊत के फ्लैट से उसका बेटा अजिंक्य सट्टे की खायवाली कर रहा है. खबर के आधार पर पुलिस ने फ्लैट पर छापा मारा. जिस समय पुलिस का छापा पड़ा आरोपी श्री गजानन नामक साफ्टवेयर पर आरोपी आनलाइन चेन्नई सुपर किंग और किंग्स 11 पंजाब के बीच खेले जा रहे मैच पर खायवाली कर रहे थे. यह साफ्टवेयर सटोरियों द्वारा ही तैयार किया गया है. जिस पर आनलाइन क्रिकेट बुकिंग की जाती है. पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर टीवी, मोबाइल, लैपटाप, नकद सहित 2.33 लाख रुपये का माल जब्त किया है. आरोपियों के खिलाफ सीताबर्डी थाने में मामला दर्ज किया गया.

भद्रे गैंग ने अपहरण कर वसूले थे 2 करोड़
ज्ञात हो कि 11 दिसंबर 2015 को गैंगस्टर राजू भद्रे ने अपने करीबी दिवाकर कोतुलवार, नितिन वाघमारे, आशी नायडू, राहुल उर्फ भरत दुबे, कार्तिक तेवर सहित अन्य के साथ मिलकर प्रतापनगर थानांतर्गत कासमास सोसाइटी क्षेत्र से बुकी अजय राऊत का अपहरण किया था. अजय को छोड़ने की एवज में 2 करोड़ रुपये की फिरौती वसूल की थी. यह मामला मीडिया में आने के बाद पुलिस काम पर जुटी और मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. इस प्रकरण के बाद अजय राऊत का नाम चर्चा में आया. डीसीपी नीलेश भरणे और एसीपी सुधीर नंदनवार के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर नरेंद्र हिवरे, एपीआई योगेश चौधरी, पीएसआई एच.एस. थोरात, हेड कान्स्टेबल अरुण धर्मे, विठ्ठल नासरे, कांस्टेबल राकेश यादव, विकास पाठक, सत्येंद्र यादव और दीप्ती जायसवाल ने कार्रवाई को अंजाम दिया.

रामटेक में LCB ने पकड़ा सटोरिया
ग्रामीण की लोकल क्राइम ब्रांच ने भी शनिवार रात गोपनीय जानकारी के आधार पर रामटेक में छापेमारी कर क्रिकेट सटोरिये को दबोचा. पकड़ा गया आरोपी बर्वे लेआउट, विवेकानंदनगर निवासी नितिन तुलाराम सोनकुसरे बताया गया. पुलिस को जानकारी मिली थी कि नितिन अपने घर से क्रिकेट सट्टे की खायवाली कर रहा है.

एसपी राकेश ओला के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर संजय पुरंदरे के नेतृत्व में पीएसआई अनिल राऊत, हेडकांस्टेबल नाना राऊत, गजेंद्र चौधरी, राजेंद्र सनोडिया, कांस्टेबल अमोल वाघ, विपिन गायधने, कविता साखरे और साहबराव बहाले ने नितिन के घर पर छापा मारा. वह आईपीएल मैच पर खायवाली करते रंगेहाथ मिला. पुलिस ने उससे 5 मोबाइल, टीवी, नकद, सट्टे के आंकड़े लिखे हुए कागज सहित 56,005 रुपये का माल जब्त किया. उसके खिलाफ रामटेक थाने में जुगार बंदी कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है.