Published On : Fri, Aug 28th, 2020

कोरोना वारियर्स आशा स्वयंसेविका और उसके पति से मारपीट

काटोल – काटोल तालुका के कोतवाल बर्डी गाव की आशा स्वयंसेविका सौ.नंदा इरखेडे ने ग्राम मे बच्चो को देने वाली वँक्सिन और टीकाकरण के लीए लीए सेटर पर बुलाया सभी लोग बच्चोका टिकाकरन कर लेकर गये वैसे हीपडोले नामक इसम भी अपने बच्चे को लेकर आए एक टिका लगाया परंतु दुसरा टीका उपलब्ध न होने के कारण बादमे बुलाने की बात कहकर भेज दीया रात मे वही पडोले अपनी पत्नि को साथ लेकर शराब पिकर गाली गलोच करते हुए आशा वर्कर के घर आकर मारने दौडा अपनी पत्नि को मारते देख बिच बचाव करने आशा के पति पांडुरंगजी इरखेडे गये तो उन्हे भी मारा जिसमे उनका हाथ की हड्डी टुटी इसकी शिकायत कलमेश्वर पोलीस थाने मे की गई

परंतू पुलीस द्वारा कोइ कारवाई नही की ईसिलीए आशा व गटप्रवर्तक संघटना महाराष्ट्र राजय कार्याध्यक्षासौ.मंदा डोंगरे के नेतृत्व मे आशा स्वयंसेविकाओ ने उप विभागीय अधिकारी श्री उम्बरकर काटोल , श्री धापके बिडीओ काटोल ,श्री व्यवहारे तालुका आरोग्य अधिकारी इनको और अन्य मांगो को लेकर निवेदन दीया गया तब संजय डांगोरे पंचायत समीती सदस्य,निशिकांत नागमोते उपस्थित थे

इसमे कुछ जरूरी मांगे १:आशाओं पर होने वाले हल्ले रोके जाए और हल्ला करने वालो पर डीजास्टर अँक्ट के तहत कार वाई की जाय
२:कोरोना मे आशा कन्टेनमेट झोन मे काम करते अनेक आशा पाजिटीव हुई उनके परीवार को आर्थिक मदत सरकार दे
३:आशाओं को जन्म ,मृत्यु और अनेक प्रकारके रिकार्ड रखने होते है १३प्रकार के नमुने के लिए जि,.प.शेषफंड से रिकार्ड खरेदी के लीए २०००रु .की मदत करे
४:सुरक्षा कीट मुवैया कराए आदी मागे की गई