Published On : Tue, Nov 25th, 2014

चंद्रपुर : सरकार के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन


1 दिसंबर को धरना आंदोलन करने की चेतावनी

Congress ka Pradarshan
चंद्रपुर।
राज्य में हाल ही में बनी भाजपा सरकार द्वारा संख्या के आधार पर बहुमत साबित न करने के विरोध तथा किसानों को कपास, धान व सोयाबीन का योग्य भाव देने, सूखाग्रस्त किसानों के लिए पैकेज घोषित करने, असिंचित क्षेत्र के किसानों को प्रति हेक्टेयर 25 हजार तथा बागायती किसानों को 50 हजार रुपए देने की मांग को लेकर कांग्रेस द्वारा आज जटपुरा गेट स्थित गांधी पुतला के पास जोरदार प्रदर्शन व नारेबाजी की गई.

भाजपा ने विधानसभा चुनाव में एलबीटी रद्द करने का आश्‍वासन दिया था. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एटबीटी को लूटो, बांटो, टैक्स कहकर उसकी अलोचना की थी. परंतु सत्ता में आते ही यू टर्न ले लेने से राज्य के व्यापारियों में उसके प्रति जबर्दस्त रोष है. आंदोलन के समय इस मुद्दे को भी उठाते हुए एलबीटी रद्द करके दिखाने की चुनौती दी गई. राज्य सरकार द्वारा उपरोक्त सभी विषयों पर तत्काल उचित निर्णय न लेने पर 1 दिसंबर को धरना आंदोलन करने की चेतावनी कांग्रेस नेताओं ने दी.

प्रदर्शन के बाद नंदू नागरकर, सुभाष गौर, सुनिता लोढिया, आसावरी देवतले, केशव रामटेके, अनिल सुरपाम, रुचित दवे, राजू अंबानी, वाणी भुतमवार, सुधीर कारंगल, पंकज टापरे, सागर वानखेडे, ए.एस. काकडे, अधि. शाकीर मलक, सुलेमान अली, विरेन्द्र लोढिया, राजकुमार रेवेल्लीवार, संजय रत्नपारखी, राहुल वनकर, प्रमोद कावले, राजू आत्राम, सचिन चहारे ने जिलाधिकारी कार्यालय में जाकर आरडीसी सुधाकर कुलमेथे को ज्ञापन देकर उसे राज्यपाल विद्यासागर राव तक पहुंचाने की अपील की.