Published On : Thu, Apr 29th, 2021

बंटी शेलके पर मामला दर्ज

विभागीय आयुक्त कार्यालय में किया हंगामा

नागपुर. निजी अस्पतालों द्वारा कोविड मरीज़ों से ज़्यादा कीमत वसूलने की समस्या की बारे में शिकायत को लेकर नगरसेवक बंटी शेलके विभागीय आयुक्त कार्यालय में कांग्रेस कार्यकर्ताओं समेत पहुंचे थी. विभागीय आयुक्त के पास शिकायत पात्र सौंपा. लेकिन चर्चा के दौरान, बंटी इतने क्रोधित हो गए की उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को जलाकर मारने की धमकी दी. घटनास्थल पर तैनात एक कांस्टेबल की शिकायत के आधार पर बंटी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया.

दरअसल लकडगंज के रेडियन्स अस्पताल में भरती कोविड मरीज़ों के परिजनों से ज़्यादा शुल्क वसूले जाने की शिकायत को लेकर बंटी शेलके और युवक काँग्रेस के कार्यकर्ता पीड़ित मरीज़ों के परिजनों के साथ मिलकर विभागीय आयुक्त संजीव कुमार के पास गए थे. बंटी ने विभागीय आयुक्त को कहा कि अस्पताल में भरती मरीज़ों से ज़्यादा शुल्क वसूला जा रहा है. पैसे देने में असमर्थ होने पर ऑक्सिजन सप्लाई काटने की धमकी भी दी जा रही है. ऐसे अस्पतालों पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. इस दौरान अस्पताल प्रशासन की ओर से की जा रही अवैध वसूली पर रोक लगाने की मांग भी की गई.


चर्चा के दौरान अचानक बंटी गुस्सा होकर कॅबिन से बाहर निकले. इस घटना की वायरल वीडियो में बनटी चिल्लाते हुए नज़र आ रहे हैं. देखते ही देखते प्रदेश काँग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले, विधायक अभिजित वंजारी भी वहां पहुंचे. पटोले ने बंटी को शांत किया. लेकिन बंटी ने गुस्से में आकर अधिकारीयों को जलाने की धमकी दी. पुलिस ने अवैध तरीके से कॅबिन में घुसकर असभ्य बर्ताव करने और सरकारी कर्मचारी को जलाकर मारने की धमकी देने के लिए बंटी शेलके पर संबंधित धाराओं के अंतर्गत मामला दर्ज किया है और जाँच प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है.