Published On : Mon, Sep 21st, 2020

‘ सीएमआरएस ‘ ने किया अजनी चौक,रहाटे कॉलोनी,एलएडी चौक और बंसी नगर मेट्रो स्टेशन का निरीक्षण

नागपूर – मेट्रो रेल सुरक्षा आयुक्त (सीएमआरएस) कें टीम ने आज नागपूर मेट्रो परियोजना कें तहत ४ स्टेशन का निरीक्षण किया. जनक कुमार गर्ग ने (रिच १ – ऑरेंज अँक्वा लाईन) अंतर्गत अजनी चौक व रहाटे कॉलोनी तथा (रिच ३ – ऑरेंज अँक्वा लाईन) अंतर्गत एलएडी चौक और बंसी नगर मेट्रो मेट्रो स्टेशन का निरीक्षण किया. चारो स्टेशन पर मौजूद सुविधाओं का जायजा लेते हुए आयुक्त गर्ग ने समाधान व्यक्त किया.

महा मेट्रो को उम्मीद है कि शीघ्र हि चारो स्टेशन का सीएमआरएस प्रमाण पत्र मिल जायेगा. प्रमाण पत्र मिलने के कारण, मेट्रो सेवा दोबारा शुरू होने के बाद ४ स्टेशन का इज़ाफा हो जायेगा और नागपुर में कुल १६ स्टेशन पर यातायात शुरू हो जायेगी.

सीएमआरएस के अधिकारीयों ने निरीक्षण दरम्यान एएफसी गेट, इंमरजंसी कॉल पॉईंट,प्लेटफार्म परिसर का इंमरजंसी स्टॉप प्लंगर,लिफ्ट और एस्केलेटर,स्टेशन परिसर में यात्रीयों के लिए उपलब्ध कराई गई सुविधा जैसे प्रसाधनगृह,पेयजल व्यवस्था,बेबी केयर रूम,दिव्यांग के लिए विशेष प्रसाधनगृह,मार्गदर्शिका,सूचना बोर्ड आदि कार्यो का निरीक्षण किया. इसके अलावा सीएमआरएस पथक ने सिग्नलिंग उपकरण कक्ष,टेलीकॉम उपकरण कक्ष, ट्रांसफार्मर, स्टेशन नियंत्रण कक्ष व विविध सुरक्षा संबंधी नियमों का प्रात्यक्षिक के माध्यम से जांच पडताल की. विषम परिस्थिती को किस तरह मात किया जाएगा इस विषय की भी जांच प्रात्यक्षीक के माध्यम से की गई. महा मेट्रो की टीम ने सीएमआरएस की टीम के समक्ष विभिन प्रकार के मॉक ड्रिल का आयॊजन किया.

झाशी राणी मेट्रो स्टेशन स्थित आरएसएस का किया निरीक्षण:
प्रवासी सेवा अविरत शुरु रहने के लिए महा मेट्रोने १३२ केव्ही व्हॅट रिसिव्हिंग सब स्टेशन का निर्माण झासी राणी मेट्रो स्टेशन यहा किया है. रेल्वे सुरक्षा आयुक्त जनक कुमार गर्ग ने इस सब स्टेशन का निरीक्षण कर रिसिव्हिंग सब स्टेशन कि प्रशंसा की. इस सब स्टेशन से मेट्रो रेल को अखंडित बिजली प्राप्त होंगी साथ ही पूर्व पश्चिम मेट्रो कॉरिडॉर स्थित मेट्रो स्टेशन व मेट्रो ट्रेन को इसका लाभ होगा इसी प्रकार का सब स्टेशन महा मेट्रो ने सिताबर्डी स्थित पुराने मॉरिस कॉलेज मैदान पर तैयार किया है.


उल्लेखनीय है कि,वासुदेव नगर मेट्रो स्टेशन का निर्माण ५००० वर्ग मीटर क्षेत्र मे २ मंजिल इमारत मे किया गया है खुबसुरत डिजाईन की यह इमारत मे पहले मंजिल पर तिकीट काउंटर, दुकाने, प्रसाधन गृह इत्यादी की व्यवस्था है. प्लेटफार्म तक पहुंचने के लिए लिफ्ट और एस्केलेटर्स की व्यवस्था उपलब्ध है. रेन – वाटर हार्वेस्टिंग का प्रावधान इस स्टेशन पर किया गया है. वरिष्ठ नागरिक आणि दिव्यांगो को मेट्रो कोच तक पहुंचने के लिए विशेष व्यवस्था की गई है. मानवीय मूल्य और सामाजिक जिम्मेदारी का निर्वाह करने के साथ ही महा मेट्रो प्रशासन शहर के ऐतिहासिक धरोहर का जतन करने का प्रयास कार्यो के दौरान कर रहा है. वासुदेव नगर मेट्रो स्टेशन के समीप ही शैक्षणिक संस्थाए,अनेक घनी बस्तीयां,अंबाझरी बायोडायवरसिटी पार्क,एमआयडीसी औद्योगिक परिसर,एसआरपीएफ गेट,वाडी क्षेत्र को जोडने वाला प्रमुख मार्ग है.

ऑरेंज मार्ग पर अजनी चौक (४८१५.००), रहाटे कॉलोनी (५७९७.६९) और एक्वा मार्ग पर बंसी नगर (५८००.००), एलएडी चौक (४४६६.३३) वर्ग मीटर क्षेत्र पर निर्माण किया गया है. सभी स्टेशनों पर ग्राउंड लेवल, कॉनकोर्स लेवल और प्लॅटफॉर्म इस तरह से तीन मंजीलों पर निर्माण कार्य हुआ है.

इस मौके पर निदेशक (परियोजना) महेश कुमार, कार्यकारी संचालक अरुण कुमार, जे पी डेहरीया, अनिल कोकाटे, महाव्यवस्थापक सुधाकर उराडे, मुख्य परियोजना व्यवस्थापक (ओएचई) नामदेव रबडे,उप मुख्य परियोजना व्यवस्थापक विद्यासागर,नरेंद्र उपाध्याय,जनरल कंसलटट के श्री. परतेती एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे .