Published On : Sat, Apr 8th, 2017

स्कॉलरशिप आवंटन में शहर के नामी कॉलेज कर रहे है हेरफेर : एनएसयूआई

Advertisement

NSUI

नागपुर: नागपुर शहर के कई इंजीनियरिंग कॉलेज में छात्रवृत्ति आवंटन में भारी गड़बड़ी और घोटाले का मामला सामने आ रहा है. सम्बंधित कॉलेज प्रबंधन कई वर्षो से छात्रवृत्ति में हेर फेर कर रहे हैं। समाज कल्याण विभाग को सब कुछ पता होने के बाद भी अनजान बना हुआ है। इन कॉलेजों और अनुसूचित, अन्य पिछड़ी जातियों के विद्यार्थियों की मांगों को लेकर एनएसयूआई (नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया ) के विद्यार्थियों और कार्यकर्ताओ ने समाज कल्याण विभाग के उपायुक्त माधव झोड़ से इस संबंध में शिकायत की। इस दौरान बड़ी संख्या में एनएसयूआई के कार्यकर्ता और राष्ट्रसंत तुकडोजी महराज नागपुर विश्वविद्यालय के विद्यार्थी मौजूद थे।

इस दौरान एनएसयूआई के महाराष्ट्र प्रदेश सचिव अभिषेक सिंह ने बताया कि आरक्षित विद्यार्थियों के लिए कानून में छात्रवृत्ति का प्रावधान है। बावजूद इसके नागपुर के कई नामी कॉलेजों के विद्यार्थियों को कई सालों से छात्रवृत्ति और परीक्षा फीस की राशि अब तक आवंटित नहीं की गई है। इन प्रमुख कॉलेजों में रामदेवबाबा कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग, तुलसीराम गायकवाड़ पाटिल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, वैनगंगा कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, रायसोनी कॉलेज और गोंदिया के मनोहरभाई पटेल कॉलेज का समावेश है।

Advertisement

अभिषेक सिंह का कहना है कि इन कॉलेजों के विद्यार्थियों की कई शिकायतें एनएसयूआई को मिल रही थी। जिसके कारण विद्यार्थियों को हो रही परेशानी के समाधान के लिए वे समाज कल्याण विभाग के उपायुक्त से मिले आए हैं। उन्होंने बताया कि शहर के कई ऐसे कॉलेज है जहां एस.सी, एस.टी. विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति के लिए परेशान होना पड़ रहा है। साथ ही मांग की गई कि जल्द से जल्द छात्रों को स्कॉलरशिप दी जाए और स्कॉलरशिप नहीं देने वाले सम्बंधित कॉलेजो पर कार्रवाई की जाए।छात्रों को जल्द स्कॉलर्शिप नहीं देने पर तीव्र आंदोलन छेड़ने की चेतावनी भी दी। इस दौरान एनएसयूआई के राष्ट्रीय प्रतिनिधि आशीष मंडपे ,नागपुर जिला एवं ग्रामीण अध्यक्ष आमिर नूरी समेत अन्य विद्यार्थी मौजूद थे.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement