Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Sep 13th, 2017
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    शहर युकां ने गड्ढे में बनाई मनपा की समाधि

    Nagpur Youth Congress
    नागपुर: शहर की सड़कों पर जानलेवा गड्ढों को समतल करने की मांग को लेकर शहर युवक कांग्रेस द्वारा लंबे समय से आंदोलन किया जा रहा है लेकिन मनपा प्रशासन व सत्ताधारियों की नींद ही नहीं खुल रही है जिसके विरोध स्वरूप कार्यकर्ताओं ने अध्यक्ष बंटी शेलके के मार्गदर्शन में सड़क के गड्ढे में मनपा की समाधि बनाकर अनोखा प्रदर्शन किया. पूर्व नागपुर के गंगाबाई घाट के समीप रोड में गड्ढे पर मनपा अधिकारियों व सत्ताधारी पार्टी के नेताओं की समाधि बनाई गई.

    पूर्व नागपुर के पदाधिकारी अक्षय घाटोले ने बताया कि युकां द्वारा शहर की समस्याओं के निराकरण की मांग को लेकर लगातार नगाड़ा बजाओ, घंटानाद आंदोलन पहले भी किया गया लेकिन कुंभकर्णी नींद में सोए अधिकारी व सत्ताधारी जागे नहीं. स्मार्ट सिटी के नाम पर करोड़ों रुपये खर्च किए जा रहे हैं. लेकिन मूलभूत सुविधाओं की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा जिससे नागरिक त्रस्त हो गए हैं. युकां द्वारा गांधीगीरी करते हुए अधिकारी को फोन लगाओ आंदोलन भी किया गया लेकिन कोई असर नहीं हुआ. सत्ताधारी और अधिकारी लगता है सो चुके हैं और उन्हें कोई मतलब ही नहीं है.

    सारे गड्ढों में बनाएंगे समाधि
    युकां की ओर चेतावनी दी गई है कि अगर 7 दिनों में गंगाबाई घाट रोड के जानलेवा गड्ढे को समतल नहीं किया गया तो शहर की सभी सड़कों के गड्ढों पर अधिकारी व सत्ताधारी नेताओं की समाधि बनाई जाएगी और तब भी अधिकारी नहीं जागे तो उनके खिलाफ सदोष मनुष्यवध का मामला दर्ज करवाया जाएगा. सत्ताधारी नेताओं को शहर में घूमने नहीं दिया जाएगा. समाधि आंदोलन में अक्षय घाटोले, हेमंत कातुरे, स्वप्निल ढोके, प्रीतम वैरागड़े, निखिल बालगोटे, गोलू श्रीवास, निखिल चाणेकर, प्रतीक उज्जैनवार, ओमदीप झाड़े, फजलुर कुरैशी, शेख अजहर, कार्तिक बोंद्रे, निखिल नंदनवार, बंटी सिंह, नयन खंडेलवाल, वरुण पुरोहित, रामचंद्र नान्हे, सागर घोंगे, मयूर नागपुरे, पीयूष खडगी, हनी सोनटक्के, ऋतिक चांदेकर, कौशिक झलके, विक्की नाटिये, राज बोकडे, पूजक मदने, आशीष लोनारकर, अनिकेत समुंद्रे, शिवम जैसवाल, रोशन पंचबुधे, हर्षल धुर्वे, शुभम मोटघरे, पलाश जगताप, पंकज सरटकर, गणेश दादुरे, हरिओम वंजारी, रेनाल्ड जेरोम, सूरज चौकीकार, चेतन थूल, चंद्रप्रकाश मोहरूले सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल थे.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145