Published On : Wed, Jan 14th, 2015

मूल : राईस मिल से नागरिकों का स्वास्थ्य खतरे में !

Advertisement


गांव की राईस मिल गांव से हटाने की मांग

Rice Mil Mool
मूल (चंद्रपुर)।
नगर परिषद अंतर्गत वार्ड नं.11 में भारत राईस मिल और दत्त राईस मिल काफ़ी वर्षों से शुरू है. राईस मिल में पिसाई किया धान का भूसा, धुँआ रोज निकालता है और यह राईस मिल के परिसर में रहने वाले नागरिकों के घर में जाता है. जिससें नागरिकों का स्वास्थ्य खतरे में आ रहा है. नागरिकों को दमा, खांसी, स्किन जैसी बिमारियों का सामना करना पड़ रहा है. इसके लिए नगर परिषद प्रशासन को वार्ड के नागरिकों ने लिखित ज्ञापन सौंपा था. लेकिन उसपर कोई भी कार्रवाई नहीं की गयी. इस वजह से राईस मिल तुरंत गांव के बाहर हटाने की मांग वार्ड वासियों की ओर से मुन्ना घुटके ने की है.

वार्ड नं.11 के मध्य क्षेत्र और नागरिकों के यातायात के मुख्य मार्ग को सटकर भारत राईस मिल रात-दिन शुरू रहती है. जिससें राईस मिल से निकलने वाला भूसा, धुंवा नागरिकों के घर में घुसता है. इतना ही नही यह भूसा किचन के बर्तन पर, बेडरूम के कपड़ों पर भी जमा रहता है. साफ-सफाई करने पर भी शरीर पर खुजली छूटती है और त्वचारोग, दमा, खांसी जैसे बिमारी फैलती है.

Advertisement
Advertisement

बारिश के दिनों में राईस मिल के पीछे पड़ा भूसा बारिश से सड़ता है और बदबू फैलती है. सड़े भूसे पर सुवर, ढोर, मुर्गियां घुमते रहते है. जिससे अनेक बिमारिया फैलने की संभावना है. इससे छात्र भी परेशान हो रहे है. जिसका परिणाम पढ़ाई पर हो रहा है. जितने राईस मिल गांव में है सभी बाहर किये जाये ऐसी मांग नगर परिषद को की गयी है. गौरतलब है कि न.प. इसकी ओर नजरअंदाज कर रही है. ऐसा आरोप भी वार्ड वासियों की ओर से मुन्ना घुटके ने किया है. कार्रवाई न होने पर आंदोलन का इशारा किया है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement