Published On : Sat, Apr 25th, 2015

अमरावती : 200 रुपए की रिश्वत लेते कोर्ट लिपिक पकड़ाया


एसीबी की कार्रवाई

25 Rajesh Makeshwer
अमरावती। कोर्ट से सहूलियत की तारिख दिलवाने के लिए एक शख्स से 200 रुपए रिश्वत लेते वरिष्ठ कोर्ट लिपिक राजेश शामराव मकेश्वर (54, त्रिमूर्ति नगर, तिवसा) को एसीबी ने रंगेहाथ पकड़ लिया. एसीबी की यह कार्रवाई शुक्रवार की रात 8 बजे कैम्प रोड डी मार्ट के सामने हुई. जिसे शनिवार को कोर्ट से जमानत मिल गई.

तारिख से था परेशान
राजेश मकेश्वर अमरावती जिला अदालत में प्रथम वर्ग न्यायदंडाधिकारी की कोर्ट में वरिष्ठ लिपिक पद पर कार्यरत है. यवतमाल निवासी शिकायतकर्ता के खिलाफ गाडगे नगर थाने में चोरी का मामला दर्ज है. जिसे प्रथम वर्ग न्यायदंडाधिकारी कोर्ट से जमानत मिली है. इस प्रकरण की वजह से उसे यवतमाल जिले से कोर्ट की तारिखों पर आना पड़ता था. जिससे उसे काफी परेशानी उठानी पड़ी

तारिख देने के लिए रिश्वत
मकेश्वर ने उससे संपर्क किया, उसे कहा कि तुम्हे सहूलियत वाली तारिखे चाहिये, तो उसे 500 रुपए दिया करे. अन्यथा इसी तरह परेशानी झेलनी होगी. 500 अधिक होने से उसने 200 रुपए में बात मान ली. इस बीच शिकायतकर्ता ने एसीबी से मकेश्वर की शिकायत कर दी. कोर्ट का कामकाज खत्म होने के बाद मकेश्वर ने उसे डी मार्ट के सामने बुलाया. एसीबी ने पहले ही उस जगह जाल बिछाया था. जैसे ही उसने 200 रुपए लिये, उसे रंगेहाथ पकड़ लिया.

घर की तलाशी
एसीबी की डीवायएसपी सचिंद्र शिंदे की रिपोर्ट पर गाडगे नगर थाने में उसके खिलाफ मामला दर्ज किया. एसीबी ने उसके तिवसा में त्रिमूर्ति नगर व विश्वप्रभा कालोनी शेगांव नाका स्थित मकान की तलाशी ली, किंतू कोई रकम एसीबी के हाथ नहीं लग पाई. शनिवार को उसे कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने उसे जमानत पर रिहा किया.