Published On : Tue, Sep 16th, 2014

मोहपा : शर्म प्रशासन को मगर नहीं आती


नगर पालिका का ध्यान ही नहीं है शहर के उद्यान की तरफ

Mohpa garden
मोहपा (नागपुर)। 
मोहपा शहर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के समीप एक उद्यान है. उसकी दुर्दशा अगर मोहपा प्रशासन भी देख ले तो उसे भी शर्म आ जाएगी. मगर वह यह जहमत उठाना ही नहीं चाहता. शहरवासियों को लगता है कि वे भी उद्यान में जाएं, वहां बैठे. छोटे बच्चे खेलें. वृद्ध व्यक्ति कुर्सी पर बैठकर हमउम्र लोगों से चर्चा करें, टहलें, लेकिन इन सब बातों के लिए उद्यान का साफ-सुथरा और खूबसूरत होना भी तो आवश्यक होता है.

मोहपा नगर पालिका शहर के इस एकमात्र उद्यान को नजरंदाज करती है. उद्यान में बच्चों के लिए सिर्फ दो खिलौने हैं, जिसमें एक ख़राब हो गया है. उद्यान में बड़ी-बड़ी घास उग आई है, जिससे लोग कुर्सी पर बैठ भी नहीं सकते. घास पर मच्छरों और विभिन्न कीड़ों का डेरा लगा होता है. ऐसे में उद्यान में घूमने जाने वाला मुफ्त में मच्छरों से मलेरिया जैसी बीमारी साथ ले आता है.

शहरवासियों ने कई बार इसकी शिकायत की, मगर नगर पालिका के कान में जूं तक नहीं रेंगती. नागरिकों का सपना है कि उनका शहर भी बाकी शहरों की तरह स्वच्छ हो, उद्यान में स्वच्छता हो. बच्चों के लिए खिलौने, झूलों की सुविधा हो. मोहपावासी घूमने के लिए उबाली रोड, पिपला रोड, खुमारी रोड का उपयोग करते हैं, लेकिन उद्यान की गंदगी देखकर कोई वहां जाने के लिए तैयार नहीं है. क्या इस ओर नगराध्यक्ष, नगरसेवक, मुख्याधिकारी ध्यान देंगे?