Published On : Sun, Nov 23rd, 2014

यवतमाल : बसपा के 3 पार्षद निष्कासित


पार्टी के खिलाफ किया कार्य, 6 वर्ष के लिए निष्कसित

यवतमाल। विधानसभा चुनाव के दौरान बसपा के तीन पार्षदों ने पार्टी के खिलाफ जाते हुए कांग्रेस के उम्मीदवारों को समर्थन दिया था. इसमें बसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष कृष्णा बेले इस मामले में दखल देकर इन तीनों पार्षदों को पक्ष से 6 वर्षों के लिए निष्कासिल कर दिया गया है. यवतमाल विधानसभा चुनाव में बसपा ने अपना अधिकृत उम्मीदवार चुनाव में खड़ा किया था. इसके पश्चात भी बसपा के पार्षदों ने विरोधी भूमिका लेते हुए ऐन समय पर कांग्रेस के उम्मीदवार के साथ हाथ मिला लिया. शहर बसपा के कुल 4 पार्षद होकर, चुनाव के समय केवल ज्योति खोब्रागड़े ने पक्ष का कम किया. अन्य पार्षदों ने ऐन समय विरोधी गुट में जाकर बैठे. इन तीन पार्षदों की हरकतों को पार्टी ने गंभीरता से लिया है. इन पार्षदों में हरीष पिल्लारे, पंकज मेश्राम, ज्योति आडे इन तिनोंं को पार्टी के खिलाफ जाने के कारण से बहुजन समाज पार्टी ने इन तीनों को पार्टी से 6 वर्षों के लिए निष्कासित करने के निर्देश प्रदेश उपाध्यक्ष ने दिए है. इसके अलावा इन तीनों पार्षदों का सदस्य व रद्द करने का प्रस्ताव भी पक्ष की ओर जल्द भेजा जानेवाला है.

इस कार्रवाई से नगर परिषद महकमें में खलबली मच गई है. सर्वप्रथम कांग्रेस ने अपने पार्षदों पर निष्कासित करने की कार्रवाई की थी. पश्चात स्थानीय शहर विकास अघाड़ी ने व्हीप फटकारने से नगराध्यक्ष समेत 7 पार्षदों पर अपात्रता का मामला दाखिल किया था. अब बसपा की ओर से वहीं किस्सा दोहराया जा रहा है.
BSP Logo