Published On : Mon, Aug 2nd, 2021
nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

भाजपा ने रखा दिव्यांगजनो का ख्याल-डॉ विकास महात्मे

पत्रकारवार्ता में बोले राज्यसभा सांसद

छिंदवाड़ा: राज्यसभा सांसद पद्मश्री डॉक्टर विकास महात्मे ने पत्रकारों से चर्चा में बताया कि पूर्व मंत्री नानाभाऊ मोहोड़ और दिव्यांग जनों के लिए कार्यरत ग्रामीण आदिवासी समाज विकास संस्थान के विजय धवले ने छिंदवाड़ा जिले के दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण प्रदान करने हेतु निवेदन किया था। तब उन्होंने तत्कालीन केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत से एलिम्को के माध्यम से सहायक उपकरण प्रदान करने की मांग की। थावरचंद जी गहलोत ने एलिम्को को निर्देश देकर जनवरी 2020 में छिंदवाड़ा जिले के दिव्यांग जनों के परीक्षण शिविर का आयोजन कराया था।जिसमें पुनर्वास विशेषज्ञों द्वारा 4146 दिव्यांग जनों को लगभग 4.32 करोड़ रुपए मूल्य के सहायक उपकरणो के लिए पात्र पाया गया था।

आज से पात्र दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण वितरित किए गए। दिव्यांग जनों के यूडी आईडी कार्ड बन रहे इस कार्ड से दिव्यांग जनों के लिए संचालित योजनाओं से जोड़ने में लाभदायक होगा।श्री महात्मे ने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के कुशल मार्गदर्शन में विभिन्न उपायों और योजनाओं के माध्यम से सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय दिव्यांग जनों के कल्याण के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा दिव्यांग जनों के कल्याण के लिए अच्छे कार्य किए जा रहे हैं। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के उपकरण भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम योजना के तहत अब तक देश भर में 9000 से अधिक से अधिक दिव्यांग जनों को 1000 करोड़ से अधिक राशि के कृत्रिम उपकरण वितरित किए जा चुके हैं।साथ ही दिव्यांगों को समाज की मुख्यधारा में जोड़ने तथा देश के विकास में योगदान देने का अवसर देते हैं। वर्ष 2016 में दिव्यांग व्यक्तियों का अधिकार अधिनियम एक्ट लाया गया है।

इस अधिनियम एक्ट में सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थाओं में दिव्यांगों को 4% आरक्षण प्रदान किया गया है। केंद्र सरकार द्वारा मध्यप्रदेश के सीहोर में 180 करोड़ की लागत से राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य संस्थान निर्माण किया जा रहा है। इस राष्ट्रीय स्तर के संस्थान में हेल्थ के सर्टिफिकेट कोर्स और ट्रेनिंग दी जाएगी। ग्वालियर में 170 करोड़ की लागत से दिव्यांगों के लिए अंतरराष्ट्रीय खेल परिसर का निर्माण किया जा रहा है।दिव्यांग छात्रों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उनकी शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिए वित्तीय सहायता और स्कॉलरशिप प्रदान करने के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही है। नेशनल हैंडीकैप्ड फाइनेंस एंड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन द्वारा दिव्यांग जनों को रोजगार की स्थापना के लिए कम ब्याज दर पर लोन प्रदान किया जा रहा है। जिसके माध्यम से दिव्यांग आत्मनिर्भर हो रहे, दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम 2016 लागू हुआ था। जिसका उद्देश्य दिव्यांग जनों के कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए योजनाओं को तैयार करना है। नई शिक्षा नीति में सभी दिव्यांगजन दिव्यांग बच्चों के लिए मुफ्त की शिक्षा मुहैया कराई जाएगी।सहायक उपकरण उपायुक्त तकनीकी आधारित उपकरण और भाषा शिक्षण संबंधित उपयुक्त व्यवस्था भी उपलब्ध कराई जाएगी।मूक बधिर दिव्यांगों के लिए शब्दकोश तैयार किया गया है। दिव्यांगों को हर क्षेत्र में पूरा अवसर देने के लिए सरकार सेवा भाव से प्रयास कर रही है।

पत्रकारवार्ता में भाजपा जिलाध्यक्ष विवेक बंटी साहू ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर पूर्व मंत्री नाना भाऊ मोहोड़,भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य शेषराव यादव,विजय झांझरी,,कन्हईराम रघुवंशी,पूर्व जिलाध्यक्ष दौलत सिंह ठाकुर,जिला महामंत्री कांता ठाकुर,जिला मीडिया प्रभारी संदीपसिंह चौहान,जिला सह मीडिया प्रभारी विक्रम सोनी,कार्यालय मंत्री अलकेश लाम्बा,जिला आईटी सेल प्रभारी दीपक कोल्हे, जिला सोशल मीडिया प्रभारी अर्पण मैद,मण्डल अध्यक्ष अंकुर शुक्ला,महामंत्री दिनेश मालवी,सत्येंद्र ठाकुर,सुनील परतेती,अंकित तिवारी,अंकित सोलंकी, बिट्टू मण्डराह, उपस्थित थे।