Published On : Wed, Jun 6th, 2018

योगी के विधायक ने फिर दिया विवादित बयान, कहा- अफसरों से अच्छी तो वेश्याएं हैं

Advertisement

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में भाजपा के विधायकों के विवादित बयान का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक बार फिर से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने अपने विवादित बयान को लेकर सुर्खियों में हैं। विधायक सुरेंद्र सिंह ने सरकारी अधिकारियों की तुलना वेश्या से कर डाली है। जिसके बाद हर तरफ उनकी आलोचना हो रही है। उन्होंने आरोप लगाया है कि सरकारी अधिकारी पैसा लेने के बाद भी काम नहीं करते हैं।

विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि अधिकारियों से अच्छा चरित्र वेश्याओं का होता है, वो पैसा लेकर कम से कम अपना काम तो करती हैं और स्टेज पर नाचती हैं, पर ये अधिकारी तो पैसा लेकर भी अपना काम करेंगे नहीं, इसकी कोई गारंटी नहीं हैं। आपको बता दें कि सुरेंद्र सिंह बलिया से भाजपा विधायक हैं। उन्होंने मंगलवार को एक कार्यक्रम के दौरान यह विवादित बयान देते हुए कहा कि आपसे कोई घूस मांगे तो उसे घूंसा दो और तब भी ना माने तो उसे जूता दो।

Advertisement
Advertisement

आवाज रिकॉर्ड करो

सुरेंद्र सिंह ने कहा कि अगर कोई कर्मचारी रआपसे रिश्वत मांगता है तो उसकी आवाज को रिकॉर्ड कर लें और मेरे सामने प्रस्तुत करें। तहसील की तुलना वेश्यालय से करते हुए विधायक ने कहा कि यहां की हालत वेश्यालय से बदतर हो गई है, मैं विधायक रहूं या नहीं रहूं लेकिन तहसील पर रिश्वतखोर अधिकारियों और कर्मचारियों को नहीं रहने दुंगा। उन्होंने कहा कि मेरा राजनीतिक जन्म चूड़ी पहनकर नहीं बल्कि हथकड़ी पहनकर हुआ है। मैं जनता के हित में किसी भी चीज का त्याग कर सकता हूं।

मैं भंग करुंगा मर्यादा

भाजपा विधायक ने कहा कि अगर अधिकारी और कर्मचारी मर्यादा भंग करेंगे तो मर्यादा भंग होगी। उन्होंने यह चेतावनी भी दे डाली कि अभी तो कार्यकर्ता मर्यादा भंग कर रहे हैं, अगर रिश्वतखोरी नहीं रुकी तो मैं खुद मर्यादा भंग करुंगा। गौरतलब है कि इससे पहले सुरेंद्र सिंह के भतीजे पर सरकारी दफ्तर के भीतर घुसकर कानूनगों से मारपीट का आरोप लगा था, जिसके बाद राजस्व कर्मचारियों ने उसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई थी।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement