Published On : Thu, May 13th, 2021

संभावित तीसरी लहर के लिए तैयार रहें: महापौर

नागपुर: विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि कोरोना की तीसरी लहर से बच्चों के संक्रमित होने की सबसे अधिक संभावना है. अगर ऐसा हुआ तो यह बहुत चुनौतीपूर्ण परिस्थिति हो सकती है क्योंकि अगर छोटे बच्चे संक्रमित हो जाते हैं, तो माता-पिता को उनके आइसोलेशन के दौरान उनके साथ रहना होगा. इन सभी संभावनाओं को देखते हुए आगे की योजना बनाई जानी चाहिए. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के नेतृत्व में शहर की स्वास्थ्य व्यवस्था से जुड़े सभी इस चुनौती का सामना करने के लिए तैयारी करें, महापौर दयाशंकर तिवारी ने आवाहन करते हुए कहा.

नागपुर महानगरपालिका और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने संयुक्त रूप से एक ऑनलाइन बैठक का आयोजन किया ताकि कोरोना की तीसरी लहर के लिए तैयारी की जा सके और वरिष्ठ चिकित्सकों से इससे निपटने के बारे में सुझाव लिए जा सके. इस अवसर पर अविनाश ठाकरे, तानाजी वनवे, स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष संजय महाजन, अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. संजय देवतले, मनपा के चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. संजय चिलकर, अतिरिक्त चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. विजय जोशी, वरिष्ठ नगरसेवक डॉ. रवींद्र भोयर, आय.एम.ए. के सदस्य डॉ. मंजुषा गिरी, डॉ. प्रशांत निखाडे, डॉ. विजय धोटे, डॉ. संदीप अंजनकर, डॉ. विनोद गांधी, डॉ. पंकज अग्रवाल, डॉ. राउत के साथ साथ कई चाइल्ड स्पेशलिस्ट उपस्थित थे.

आय.एम.ए. के अध्यक्ष डॉ. संजय देवतले ने कहा कि कोरोना की पहली लहर में 60 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिक बड़े पैमाने में संक्रमित हुए थे. दुसरी लहर में युवा पीढ़ी ज़्यादा संक्रमित होते नज़र आई. दोनों आयु वर्ग के नागरिकों का टीकाकरण जारी है. इसके चलते टीकाकरण अभियान में शामिल न हो पाने के कारण तिसरी लहर से बच्चों के संक्रमित होने का सबसे ज़्यादा खतरा है. अत: शहर के तमाम चाइल्ड स्पेशलिस्ट की मदद से स्वास्थ्य व्यवस्था को तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयार होना होगा.

डॉ. मंजुषा गिरी ने कहा कि बच्चों के संक्रमित होते ही उनके क्वारंटाइन की व्यवस्था को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं. इसके लिए आयु वर्ग 1 से 5 वर्ष, आयु वर्ग 6 से 10 और आयु वर्ग 10 से 18 वर्ष के एज ग्रुप बनाकर नियोजन करना चाहिए. इनके अलावा डॉ प्रशांत निखड़े, डॉ संदीप अंजनकर समेत कई अन्य वरिष्ठ चिकित्सकों और मनपा पदाधिकारियों ने अपनी -अपनी प्रतिक्रियाएं दी.