Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Mar 15th, 2019

    जिले में आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से किया जा रहा पालन : मुदगल

    विशेष दस्ते तैनात, प्रशासन ने की जनसहयोग की अपील

    नागपुर: लोकसभा चुनाव के दौरान रामटेक,नागपुर लोकसभा चुनाव क्षेत्र में किसी भी तरह की गड़बड़ी को टालने के लिए जिला प्रशासन ने कमर कस ली है. आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन ना हो इसलिए विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के अनुसार जिले में ४८ फ्लाइंग स्क्वाड व ३६ चेक पोस्ट तैनात किए गए हैं. आचार संहिता के मद्देनज़र अब तक ५४०० फ्लेक्स, बैनर, होर्डिंग निकाले गए. यह जानकारी जिला चुनाव अधिकारी व जिलाधिकारी अश्विन मुदगल ने दी.

    मुदगल के अनुसार जिला स्तर पर आचार संहिता कक्ष तैयार किया गया है. इस कक्ष ने विधानसभा निहाय रोज आचार संहिता के उलंघन से जुड़ी शिकायतें दर्ज कराने की व्यवस्था की गई है.

    जिलाधिकारी मुदगल ने बताया कि केंद्रीय चुनाव आयोग के नियमानुसार उम्मीदवारों को उन पर दर्ज अपराध की जानकारी मीडिया के माध्यम से देनी होगी. प्रशासन भी इसके लिए उम्मीदवारों को इस सम्बन्ध में निर्देश देंगे. उन्होंने इस सन्दर्भ में जानकारियां छिपाने की कोशिश की तो उनकी उम्मीदवारी रद्द की जा सकती है.

    उम्मीदवारों को मिलेंगे प्रचार के लि मात्र ११ दिन नागपुर जिले में नागपुर व रामटेक लोकसभा का चुनाव ११ अप्रैल को होने जा रहा है. उम्मीदवारों को २८ अप्रैल तक नामांकन भरने की अंतिम मोहलत दी गई है. २९ मार्च को उम्मीदवारों की सूची सार्वजानिक की जाएंगी. इसके बाद प्रचार-प्रसार का क्रम शुरू होगा. ९ अप्रैल की शाम ५ बजे चुनाव प्रचार सार्वजानिक रूप से बंद हो जाएगा. अर्थात नागपुर जिले में लोकसभा चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों को मात्र ११ दिन ही प्रचार के लिए मिलेगा.

    लोस चुनाव में निर्णायक भूमिका में दिखेगी महिला मतदाता
    राज्य में ४ चरणों में लोकसभा चुनाव होने जा रहे हैं. वर्ष २००४,वर्ष २००९ ,वर्ष २०१४ की तुलना में महिला मतदाताओं की संख्या में काफी इजाफा हुआ है. वर्ष २०१९ के लोकसभा चुनाव में प्रत्येक १००० पुरुष के पीछे ९११ महिलाए हैं.

    महिला मतदाताओं में मतदान के प्रति जनजागरण करने के उद्देश्य से केंद्रीय चुनाव आयोग ने “स्वीप” (SVEEP – Systematic Voters Education and Elector Participation) कार्यक्रम शुरू किया है.


    Trending In Nagpur
    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145