Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Jun 20th, 2017
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    वार्ड निधि में २ लाख रूपए की वृद्धि के साथ मनपा बजट मंजूर

    नागपुर: नागपुर मनपा का वर्ष २०१७-१८ का वार्षिक बजट मनपा चुनाव के तीन माह बाद पेश किया गया.इससे एक ओर नए-नवेले नगरसेवकों को राहत महसूस हुई तो दूसरी ओर २२७१.९७ करोड़ रूपए की विशालकाय प्रस्तुत बजट को पूर्ण करने के मसले पर अनुभवी नगरसेवकों ने नाना प्रकार से खेद प्रकट की.शनिवार १७ जून को मनपा स्थाई समिति अध्यक्ष संदीप जाधव ने मनपा का बजट पेश किया। आज १९ जून को उक्त प्रस्तुत बजट को मंजूरी देने के पूर्व ४ दर्जन से अधिक नगरसेवकों ने ८ घंटे से अधिक मैराथन चर्चा की.नाना प्रकार के तर्क-वितर्क के बाद बजट में नगरसेवकों के वार्ड निधि १५ लाख से बढाकर १७ लाख कर दी गई.सभी नगरसेवकों के १७- १७ लाख वार्ड निधि में से २-२ लाख रूपए काटकर सूखा-गिला कचरा संकलन हेतु ‘डस्टबिन” खरीदने हेतु उपयोग किया जाएगा।

    मनपा में सत्तापक्ष नेता संदीप जोशी ने बताया कि एक जुलाई से ‘जीएसटी” लागु हो जाएंगी। इसके बाद मनपा को मिलने वाले सभी प्रकार के अनुदान बंद हो जाएंगे। अब मनपा को अनुदान के रूप में “जीएसटी” के तहत अनुदान प्राप्त होंगी,वह भी कम से कम २ महीने बाद से मिलना शुरू होंगा. इन २ माह में होने वाली आर्थिक तंगी से निपटने के लिए मनपा बजट के तहत ‘ एमीनेस्टी स्कीम ‘ लाने जा रही है.यह योजना ६ से १६ जुलाई तक रहेंगी,इस योजना के तहत जल कर व संपत्ति कर के बकायेदारों को बकाया कर सर मुक्ति दिलवाने का प्रयास किया जाएंगे। योजना के शर्तो के अनुसार बकाया जल कर के दंड में १००% छूट एवं सम्पत्तिकर के दंड में ९०% दिया जाएंगे। दोनों ही प्रकार के करो के बकायेदारों पर लगभग ४५० करोड़ रूपए बकाया है,दंड कम करने के बाद उक्त बकाया राशि २०० करोड़ के आसपास शेष रह जाएंगी। इस २०० करोड़ को वसूली हेतु मनपा प्रशासन को कड़ी मेहनत करनी ही पड़ेंगी। यह भी साफ़ किया कि उक्त माफ़ी योजना अगले ५ वर्षो के लिए अंतिम अवसर होंगा। “जीएसटी” लागू होने के ६-८ माह के बाद मनपा की आर्थिक स्थिति व्यवस्थित होने की उम्मीद जोशी ने जताई है.

    रही बात बजट के प्रस्तुतिकरण को वर्त्तमान स्थाई समिति अध्यक्ष संदीप जाधव ने बड़ी सहजता के साथ प्रस्तुत किया। प्रत्येक स्थाई समिति अध्यक्ष की मानसिकता रहती है कि वे अपने द्वारा प्रस्तुत बजट में अपनी अलग छाप/योजना का अहसास करवाए।लेकिन संदीप जाधव ने पिछले सभी जारी एवं प्रस्तावित/घोषित योजना को पूरा करने को प्राथमिकता दी.

    यह भी तय है कि मनपा बजट में प्रस्तुत ‘जीएसटी” के तहत अनुदान ६०% ही प्राप्त होने का अंदेशा व्यक्त किया जा है.

    आज मनपा बजट पर चर्चा की शुरुआत १० बजे की बजाये १०.४५ बजे सुबह शुरू हुई.चर्चा की शुरुआत वरिष्ठ नगरसेवक छोटू भोयर ने की.इसके बाद संजय बंगाले,संदीप सहारे,वैशाली नारनवरे,विक्की कुकरेजा,जीतेन्द्र घोडेस्वार,निशांत गाँधी,दिनेश यादव,परशराम मानवटकर,स्वाति आखतकर,वंदना चांदेकर,प्रमोद चिखले,पुरुषोत्तम हज़ारे,प्रदीप पोहाणे,मंगला लांजेवार,संगीता गिरे,दर्शनी धवड,नेहा निकोसे,निरंका भिवगड़े,सुषमा चौधरी,रूपा राय,हर्षला साबले,किशोर कुमेरिया,सतीश होले,मनोज सांगोले,आभा पांडे,कमलेश चौधरी,दिलीप दिवे,जगदीश ग्वालवंशी,जुल्फेकार भुट्टो,आशा उइके,यशश्री नंदनवार,प्रफुल्ल गुरधे पाटिल,प्रवीण दटके आदि के संबोधन के बाद सत्तापक्ष नेता संदीप जोशी ने अपने द्वारा दिए गए सुझाव दिए.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145