Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Aug 2nd, 2018

    केबिन में परीक्षा नियंत्रक के नहीं होने से नाराज एनएसयूआई के पदाधिकारियों ने उनकी कुर्सी पर पौधा लगाकर डाला पानी

    नागपुर : अमरावती रोड स्थित परीक्षा भवन की कार्यप्रणाली और कर्मचारियों की लापरवाही को लेकर एनएसयूआई (नेशनल स्टूडेंट्स ऑफ़ इंडिया ) के पदाधिकारियों और विद्यार्थियों ने प्रदर्शन किया. इस दौरान परीक्षा नियंत्रक नीरज खटी अपने केबिन में मौजूद नहीं होने की वजह से पदाधिकारियों ने उनकी कुर्सी पर पौधा लगाकर उस पर पानी डालकर विरोध प्रदर्शन किया. दरअसल नागपुर यूनिवर्सिटी के कुलसचिव पूरनचंद्र मेश्राम के रिटायरमेंट के बाद खटी को कुलसचिव बनाया गया है.

    जिसके कारण परीक्षा नियंत्रक का कार्यभार भी उन्हीं के पास होने की वजह से वे दोनों तरफ का कार्यभार संभाल रहे हैं. इस प्रदर्शन में प्रमुख रूप से मौजूद एनएसयूआई के उपाध्यक्ष अजित सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि विभिन्न समस्याओं को लेकर वे परीक्षा भवन में गए थे. लेकिन किसी भी अधिकारी और कर्मचारी ने प्रतिसाद नहीं दिया. परीक्षा नियंत्रक अपने केबिन में मौजूद नहीं थे. विद्यार्थियों को परीक्षा भवन में विभिन्न परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. जिसके कारण विद्यार्थी काफी परेशान हैं. कई फैकल्टी के रिजल्ट लगाने में देरी हो रही है.

    अजित सिंह ने कहा कि परीक्षा के रिजल्ट में गलती होने पर जब विद्यार्थी शिकायत लेकर जाते हैं तो सिक्योरिटी गार्ड उन्हें अंदर जाने नहीं देते है. प्रो- मार्क कंपनी के अधिकारी सांठगांठ के साथ रिजल्ट में गड़बड़ी कर रहे हैं. परीक्षा विभाग के कर्मचारी रिजल्ट की ठीक से जांच नहीं करने की वजह से विद्यार्थी फेल हो रहे हैं. रिवैल्युएशन का रिजल्ट समय पर नहीं देने की वजह से विद्यार्थियों को अगली क्लास में प्रवेश नहीं मिल रहा है.

    परीक्षा नियंत्रक के मौजूद नहीं होने की वजह से विभाग के कर्मचारी ठीक से काम नहीं कर रहे हैं और न ही विद्यार्थियों के साथ कर्मचारियों का बर्ताव ठीक है. एक कार्य के लिए विद्यार्थियों से दोगुना शुल्क वसूला जा रहा है. परीक्षा भवन के कर्मचारियों के कारण विद्यार्थियों को मानसिक परेशानी भी हो रही है.

    सिंह ने बताया कि जिस प्रोमार्क कंपनी को रिजल्ट से सम्बंधित और डाक्यूमेंट्स से सम्बंधित सुधार करने के लिए रखा गया है. उन्हें टारगेट देने के कारण विद्यार्थियों के रिजल्ट में गलती हो रही है. सिंह ने बताया कि वे नागपुर यूनिवर्सिटी के कुलगुरु से मिले और उन्हें सभी समस्याओं से अवगत कराया है. इस प्रदर्शन में जिलाध्यक्ष आशीष मंडपे, अभिषेक सिंह, सुशांत लोखंडे, विवेक राय, संदीप जैन, अनिरुद्ध पांडे, प्रणय सिंह, अनिकेत मोरे, सागर घोड़से, अनूप भंडारी, नितिन गोलाइत मौजूद थे.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145