Published On : Mon, Feb 24th, 2020

सड़क किनारे दुकान उजाड़ने से खफा अपंग ने शरीर पर उढ़ेला मिट्टी का तेल

महापौर ने अपंगों से चर्चा के लिए उन्हें लिखित आमंत्रित किया था,बैठक न होने खफा होकर धरना पर बैठ गए,मोरोने के आश्वासन बाद चले गए

नागपुर – उच्च न्यायालय के आदेश का पालन करते हुए मनपा प्रशासन की शहरभर में अतिक्रमण उन्मूलन की कार्रवाई शुरू हैं। इस क्रम में कल कुछ अपंग का दुकान भी हटाया गया। इसी बीच आज महापौर से अपंग बंधुओं की बैठक थी। लेकिन बैठक नहीं हो पाने से खफा होकर वे सभी मुख्य द्वार पर धरना-प्रदर्शन करने लगे,कोई सुनवाई न होता देख आग बबूला एक अपंग ने अपने शरीर पर मिट्टी का तेल डाल लिया।

मामले की गंभीरता को देखते हुए उपस्थित पुलिस कर्मियों ने उसको अपने कब्जे में ले लिया। इसी बीच अपंगों का हंगामा और तेज हो गया। उपस्थित पुलिस अधिकारियों ने मनपा उपायुक्त महेश मोरोने को बुलाया और अपंगों के मध्य चर्चा करने हेतु ले गए।मोरोने को उपस्थित अपंग बंधुओं ने जानकारी दी कि आज महापौर जोशी से उनकी बैठक थी। जिसका लिखित आमंत्रण भी उन्होंने दिखाया। मोरोने ने जानकारी दी कि महापौर का तबियत खराब होने के कारण वे आज मनपा में नहीं आ पाए।

अपंगों ने जानकारी दी कि कल गाँधीबाग़ बगीचे के निकट पिछले 20 वर्षों से चाय की दुकान लगाने वाले अपंग बंधु की दुकान अतिक्रमण दस्ता ने तोड़ दिया,उनका काफी नुकसान हुआ। इनका कहना था कि जब आज बैठक थी तो बैठक बाद कोई कार्रवाई करते लेकिन एक दिन पहले उस अपंग का बड़ा नुकसान करने से खफा होकर इसी अपंग ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल डाल कर आत्मदाह करने की रट लगता रहा। इनका यह भी कहना था कि जब तक पर्याय व्यवस्था नहीं हो जाती तब तक कम से कम अपंग बंधुओं को यथावत कायम रहने दिया जाना चाहिए।

मोरोने ने उन्हें आश्वस्त किया कि वे आयुक्त मुंढे से चर्चा कर उन्हें अवगत करवाएंगे।इसके बाद अपंगों का जमा भीड़ मनपा मुख्य द्वार पर बैठ गई फिर बाद में लौट गई।