Published On : Sat, Feb 14th, 2015

बालापुर : फिर एक किसान ने की आत्महत्या

farmer Suicide
बालापुर (चंद्रपुर)। फसल न होने और कर्ज से तंग आकर नागभीड़ तालुका के बालापुर के एक किसान ने जहर पिकर आत्महत्या करने की घटना शुक्रवार सुबह उजागर हुई. सुखदेव विश्वनाथ बावनकर मृतक है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार गत तीन वर्षो से जिले में सुखा है. प्राकृतिक आपदा, मजदूरों की रोजी, बैंक के कर्ज से किसान काफी तंग आये है. जिससे किसानों का आत्महत्या करने का सिलसिला शुरू है. ऐसे ही बालापुर निवासी सुखदेव बावनकर कल रात जहर पीकर आत्महत्या कर ली. गेंहू, चना, लाख की फसल वन्य प्राणियों से बचाने के लिए सुखदेव रोज जागरण करने खेत में जाता था. उस पर बैंक और पतसंस्था का कर्जा था. पिछले साल सुखा होने से खेत में फसल नही हुई. बिन फसल, कर्जा, बच्चों की शिक्षा की चिंता में सुखदेव रहता था. वहीं धान को कम भाव मिलने से और चिंता बढ़ गई थी.

सुखदेव सुबह घर नही पहुंचने से उसका बेटा रुपेश खेत पर गया. पिता को उसने सोने की अवस्था में पाया. रुपेश ने बाजु के खेत से मंगेश झाडे को बुलाकर जाँच की. जहां सुखदेव ने जहर पिकर आत्महत्या कर ली ऐसा ध्यान में आया. इस घटना की जानकारी तलोधी पुलिस को दी गई. पुलिस ने पंचनामा कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. सुखदेव के परिवार में पत्नी, एक बेटा और दो बेटियां है.