Published On : Fri, Dec 27th, 2019

एजी-बीवीजी के कामगारों ने किया कामबंद

कचरा संकलन करने वाले १८४० कामगारों को वेतन नहीं दिया

नागपुर: ‘सर मुंडाते ही ओले पड़े’ मनपा प्रशासन ने कचरा संकलन के लिए पुरानी कंपनी को हटाकर नहीं कंपनी लाई. इनके कामगारों को २ माह से वेतन नहीं दिए जाने से उन्होंने सेना प्रणित कामगार संगठन के नेतृत्व संरक्षण में आज काम बंद कर दिया।जब तक बकाया वेतन नहीं दिया जाएगा, तब तक शहर भर से कचरा संकलन शुरू नहीं करने की चेतावनी कामगार सेना के नेता जैदी ने दी.

लगभग २ माह पूर्व शहर भर से कचरा संकलन के लिए मनपा प्रशासन ने कनक का ठेका ख़त्म होने के बाद एक की बजाय २ कंपनियों एजी व बीवीजी नामक ठेकेदार कंपनियों को आधी आधी शहर विभक्त कर कचरा संकलन का ठेका दिया। इन कंपनियों ने मनपा प्रशासन के पूर्ण सहयोग से जैसे तैसे शहर की जिम्मेदारी संभाली लेकिन आदतन इन कंपनियों ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया।कामगार सेना के संगठक आई एच जैदी के अनुसार २ वेतन नहीं दिया गया इसलिए कामबंद आंदोलन किया गया. जब तक बकाया वेतन नहीं दिया जाता तबतक काम शुरू नहीं किया जाएगा।जैदी के अनुसार एजी के प्रबंधक विलास ऐड़े ने आश्वासन तो दिया, पूर्ति होते ही काम शुरू कर दिया जाएगा।