Published On : Thu, Dec 27th, 2018

सीएम के आश्वासन के बाद मार्ड ने लिया आंदोलन वापस

नागपुर: नागपुर में मार्ड (महाराष्ट्र एसोसिएशन ऑफ़ रेजिडेंट डॉक्टर) के डॉक्टरों ने स्टायफंड के लिए मोर्चा निकाला था. बुधवार को डॉक्टरों की ओर से मेडिकल हॉस्पिटल के डीन ऑफिस के बाहर नारेबाजी भी की गई थी. जानकारी के अनुसार मार्ड के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री की बैठक हुई. मुख्यमंत्री की ओर से मिले आश्वासन के बाद मार्ड के डॉक्टर शांत हुए. मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया है कि 3 दिनों में डॉक्टरों को उनका स्टायफंड दिया जाएगा .पिछले कई सालों से देखने में आया है कि डॉक्टरों को स्टायफंड नियमित रूप से नहीं मिलता है.

इस बार इस आंदोलन में डॉक्टरों की ओर से पहले दिन विरोध में काले फीते बांधकर काम किया गया. दूसरे दिन भी आंदोलन जारी रहा. डॉक्टरों का कहना है कि पिछले दो महीनों से उन्हें स्टायफंड नहीं दिया गया है.

मार्ड के नागपुर अध्यक्ष डॉ. आशुतोष जाधव ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि नागपुर के लगभग 450 रेजिडेंट डॉक्टरों को स्टायफंड नहीं मिला है और महाराष्ट्र के 1 हजार डॉक्टरों को स्टायफंड नहीं मिला है. अभी मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की ओर से आश्वासन दिया गया है. तीन दिनों में स्टायफंड नहीं मिलने पर सेंट्रल मार्ड के पदाधिकारी आगे की रणनीति तय करेंगे.