Published On : Fri, Feb 17th, 2017

बीम डिजीटल मैनेजमेंट का लाभ शैक्षिक संस्थाओं को भी मिलेगा : बृजेश दीक्षित


नागपुर:
नागपूर में मेट्रो रेल का बीजारोपण किया गया था । शीघ्र ही फूल और फल लगने लगेंगे। फल का स्वाद बेहद मधुर होगा। एनएमआरसीएल की ओर से 5 डी बीम डिजीटल मैनेजमेंट प्लेटफार्म तैयार किया गया है। इसके जरिए सभी प्रकार के कौशल्य को एक स्तर पर लाया जा सकेगा। यह बात महामेट्रो बीम अकेडमी के शुभारंभ के दौरान प्रबंध निदेशक बृजेश दीक्षित ने कही। उन्होंने कहा कि नागपूर मेट्रो को पुणे मेट्रो का कार्य मिला है। पुणे में भी यही सिस्टम लागू किया जाएगा । पुणे आइटी हब है। लिहाजा बीम डिजीटल मैनेजमेंट का लाभ शैक्षिक संस्थाओं को मिल सकेगा और विद्यार्थी डिजीटल मैनेजमेंट अकादमी से लाभान्वित होंगे।

आइ आइ टी (मुंबई) के पदमश्री फाटक ने कहा कि देश में बीम अकादमी का पहला सिस्टम नागपुर में साकार हो रहा है। किसी भी प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए क्वालिटी, कास्ट और टाइम तीनों का एक साथ होना जरूरी है। 5 डी बीम अकादमी सिस्टम के माध्यम से मेट्रो के घटकों को एक साथ दिखाता है। फाटक ने आगे कहा कि आज जो सिस्टम साकार होने जा रहा है, इससे न केवल मेट्रो को लाभ मिलेगा, बल्कि सेवा उद्योगों को भी लाभ मिलेगा और खर्च में काफी कटौती संभव हो सकेगी। आइ आइ टी के छात्रों को अकेडमी के माध्यम से अध्ययन का लाभ भी मिल सकेगा। फाटक ने आइ टी क्षेत्र के युवाओं से अकेडमी का लाभ उठाने का आव्हान किया।

इस अवसर पर नागपूर मेट्रो की और से निदेशक महेश कुमार(प्रकल्प), निदेशक सुनील माथुर (रोलिंग स्टॉक),निदेशक शिवमाथन (वित्त), अनिल कोकाटे (वित्त आणि प्रशासन), शिरीष आपटे(जनसंपर्क एवं समन्वय) तथा बेन्टले कि ओर से विनायक त्रिवेदी, स्नेहलकुमार बोकारे, कौशिक चक्रबोर्ती, डेवीड रॉबर्टसन, डेजान प्यापिक, एस.गोस्वामी उपस्थित थे।

अब माझी मेट्रो के लिए हाई स्पीड वाईफाई सेवा का करार
नागपुर मेट्रो को हर मायने में ना केवल पर्यावरण प्रिय बनाने पर जोर दिया जा रहा है बल्कि इसे यात्रियों के िलए भी लोकप्रीय बनाने की दिशा में लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। शुरू होने से पहले ही मेट्रो के लिए इंटरनेट सुविधा से लैस करने के िलए शुक्रवार को रिलायंस जियो और महामेट्रो के बीच करार किया गया। रिलायंस जियो नागपुर मेट्रो रूट के सभी स्टेशनों के अलावा चलती मेट्रो ट्रेन में भी हाई स्पीड इंटरनेट सेवा का लुत्फ उठा सकेंगे। केवल यही नहीं भीड़भाड़वाले इलाकों में मनोरंजन के िलए गेमिंग क्योस्क भी लगाए जाएंगे। शुक्रवार को किए गए करार में महामेट्रो की ओर से रोलिंग स्टॉक एंड सिस्टम्स निदेशक सुनील माथुर व रिलायंस जियो के प्रदेश बिजनेस प्रमुख उमेश धुर्वे ने हस्ताक्षर किया। साथ में प्रबंध निदेशक ब्रजेश दीक्षित, परियोजना निदेशक महेश कुमार और वित्त निदेशक एस. सिवमाथन भी प्रमुखता से उपस्थित थे।