Published On : Thu, Apr 29th, 2021

अतिरिक्त शुल्क वसूली करने वाले प्राइवेट कोविड सेंटर पर हो कार्यवाही

सावनेर – एक ओर कोरोना वायरस का कहर पूरे देश में जारी है, तो वहीं दूसरी ओर प्राइवेट अस्पतालों ने कोरोना के इलाज के नाम पर लूट मचा रखी है। कोरोना की जांच से लेकर दवा तक सब इतने महंगे हैं कि आम आदमी परेशान हो जाए। इसकी के मद्देनजर कल सावनेर विधानसभा युवा काँग्रेस अध्यक्ष राजेश खंगारे द्वारा सावनेर के उपविभागीय अधिकारी अतुल म्हेत्रे को एक निवेदन देकर अतिरिक्त शुल्क वसूली करने वाले प्राइवेट कोविड सेंटरो पर हो कार्यवाही मांग की है । सावनेर-कलमेश्वर शहर में कुछ कोविड हॉस्पिटलो (सेंटर) मरीजों से महाराष्ट्र शासन द्वारा निर्धारित किये गए बेड चार्ज(शुल्क)से भी ज्यादा कुछ कोविड सेंटर शुल्क वसूल रहे है।

उन्हें मिली जानकारी के मुताबिक जो कोरोना पॉजिटिव मरीज नॉन आईसीयू वार्ड में हैं, उनसे रोजाना इलाज की लागत १५ से २० हजार रुपये तक लिए जा रहे है । अगर मरीज ६ दिन इलाज के लिए भर्ती रहता है, तो उनसे ७५ से ९० हजार सिर्फ हॉस्पिटल मे देना पड़ रहा है । बाकी सी.टी-स्कैन, दवाइयों,ब्लड टेस्ट,एक्सरे आदि के पैसे अलग लिए जा रहे है ।

५ से ६ दिन का ही मरीजों के परिजनो को कुल मिला के १ से १.५ लाख रुपये तक का भुगतान करना पढ़ रहा है। राजेश खंगारे का यह भी कहना है कि, इसके चलते ग़रीब तथा माध्यम वर्ग के अधिकतर लोग कोविड टेस्टिंग से लेकर हॉस्पिटल जाने से नाम से कतराते रहे है, वे डॉक्टर के पास ना जाते हुवे मेडिकल स्टोर से दवा लाकर खा लते है । मोटी रक़म के आभाव में वे लोग इलाज़ नही कर पाते,देखा जाए तो ये भी मुख्य कारण है जिस्से मृतकों की संख्या ग्रामीण तथा शहरो मे बढती जा राही है। शासन द्वारा निधार्रित किये गए कोविड बेड चार्ज जिसमे

१)जनरल वार्ड बेड चार्ज ४०००/-
२) ICU वार्ड बेड चार्ज ७५००/-
3) ICU WITH VENTILATION बेड चार्ज ९०००/-

इसके बावजूद शहरों एवं ग्रामीनों के कई कोविड सेंटर निर्धारित बेड चार्ज के बने नियमों की धज्जियां उड़ा रहा है। शासन द्वारा बनाये गए नियमों का पालन ना करने वाले प्राइवेट कोविड सेंटरों पर तुरंत कार्यवाही की मांग का निवेदन सावनेर विधानसभा युवा काँग्रेस के अध्यक्ष राजेश खंगारे,पंचायत समिती उपसभापती प्रकाश पराते, स्वप्निल महाजन,मोहित बारस्कर, गोलू दहीहांडे आदि ने की है ।