Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Sep 14th, 2016
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    आरोपी ने अदालत में किया आत्मसमर्पण

    surrender

    Representational Pic

    नागपुर: कई वारदातो में शामिल और हाल ही जबरजस्ती घर खाली कराने के एक मामले के आरोपी गौतम भटकर ने बुधवार को अदालत में आत्मसर्पण कर दिया। भटकर संतोष आंबेकर और युवराज माथनकर की गैंग का सदस्य है। उस पर गैंग के साथ मिलकर घर खाली कराने और जान से मारने की धमकी देने के आरोप का एक मामला अदालत में शुरू है इसी मामले की आज सुनवाई थी।

    सुनवाई के दौरान करीब ढाई बजे भटकर ने न्यायमूर्ति सलमान आजमी के समक्ष समर्पण कर दिया। इसी वर्ष 18 जनवरी को आरोपी युवराज माथनकर अपने 30-40 साथियों के साथ सहकार नगर निवासी स्वप्नील बडवई के घर में घुसकर वाल कंपाउड और सीढ़ियों पर तोड़-फोड़ की थी। साथ ही बडवई को घर खाली ना करने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी। इस मामले में सोनेगांव पुलिस ने मामले की छानबीन की जिसके बाद 27 जनवरी को आरोपियों पर पुलिस ने मकोका लगाया गया। इस गैंग के प्रमुख संतोष आंबेकर पर भी मकोका लगाया गया। आरोपियों में आंबेकर के साथ युवराज माथनकर, बिल्डर सचिन अडुलकर, विजय बोरकर, शक्ति मनपिया, आकाश बोरकर, विनोद मसराम, संजय फातोड़े और लोकेश कुभीटकर का समावेश है। इस मामले में पुलिस ने सभी को हिरासत में लिया था। जबकि भटकर अब भी गिरफ्त से बाहर था। बुधवार दोपहर को इस मामले के एक मात्र फरार आरोपी ने भी न्यायालय में समर्पण कर दिया।


    Trending In Nagpur
    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145