Published On : Fri, Feb 17th, 2017

सुनार से पांच हजार लेते दो सिपाही एसीबी के हत्थे चढ़े

नागपुर: शहर पुलिस के दो सिपाही आज शुक्रवार को एक सुनार से पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार हुए। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो यानी एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने जाल बिछकार रिश्वतखोर पुलिस कर्मचारियों को पकड़ा। गिरफ्तार पुलिस कर्मियों के नाम है संजय बांगड़कर और शोएब हबीब शेख। इन पुलिस कर्मियों ने सुनार […]

Sanjay & Shoyeb

Sanjay Marotrao Bangadkar, Shoyeb Habib Sheikh


नागपुर:
शहर पुलिस के दो सिपाही आज शुक्रवार को एक सुनार से पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार हुए। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो यानी एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने जाल बिछकार रिश्वतखोर पुलिस कर्मचारियों को पकड़ा। गिरफ्तार पुलिस कर्मियों के नाम है संजय बांगड़कर और शोएब हबीब शेख। इन पुलिस कर्मियों ने सुनार से उसके बेटे को गिरफ्तार नहीं करने के एवज में पांच हजार रुपए की रिश्वत की मांग की थी। सुनार के बेटे पर चोरी के आभूषण खरीदने के आरोप हैं।

बताया जाता है कि सुनार की पारडी में सोने-चाँदी के आभूषणों का शोरुम है। कुछ दिनों पहले इस सुनार के बेटे ने किसी आरोपी से चोरी के गहने खरीदे थे। गहने चोरी के इस मामले को पड़ताल हुड़केश्वर थाने के दो सिपाही कर रहे थे। इन सिपाहियों ने सुनार से उसके बेटे को चोरी के गहने खरीदने के आरोप में गिरफ्तार करने का दम दिखाया और फिर गिरफ्तार न करने के लिए पांच हजार रुपए की रिश्वत मांगी। सुनार ने रिश्वत देने की बजाय एसीबी से संपर्क किया। एसीबी की ओर से पड़ताल में शिकायत सही पायी गयी। फिर एसीबी ने जाल बिछाकर आज दोनों सिपाहियों को पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार सिपाहियों पर हुड़केश्वर थाने में 1988 की भ्रष्टाचार निरोधक धारा 7, 12, 13(1)(डी), 13(2) की तहत केस दर्ज किया गया है। आज की कार्रवाई को एसीबी की थानेदार भावना धुमाले, थानेदार मोनाली चौधरी, कांस्टेबल गण गौतम राऊत, श्रीकांत हत्तीमारे, दीप्ति मोटघरे, शालिनी जाम्भुलकर एवं चालक उत्तम दास ने बखूबी अंजाम दिया।

Stay Updated : Download Our App
Advertise With Us