| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Oct 24th, 2020

    सह दुय्यम निबंधक कार्यालय में हुई हाथापाई

    – तनावपूर्ण हुआ था कुछ देर के लिए वातावरण,कोरोना नियमों की उड़ाई जा रही है धज्जियां

    नागपुर – विगत कुछ दिनों से हिंगना के सह दुय्यम निबंधक कार्यालय में लोगो का खरेदी बिक्री के दस्तावेज लगाने के लिए जमावड़ा लगा हुवा है। क्युकी कोरोना की वजह से रजिस्ट्री को लगने वाली स्टाम डिवटी कम कर दी गई है और कर्मचारियों की हड़ताल से भी अधिकांश बिक्रिया रुक गई थी। इसलिए इन दिनों रजिस्ट्रार कार्यालय से खरेदी बिक्री के दस्तावेज लगाने भीड़ उमड़ी हुई है। सुबह से शाम तक दस्तावेज का नंबर नहीं लगने पर लोगो ने अपना अबा खो दिया और मेरा नंबर मेरा नंबर है कहते हुए दो लोग आपस में भिड़ गए। दोनों में मामूली हाथा पाई हुई। कुछ लोगो की मध्यता से मामला शांत किया गया। एक पुलिस की निगरानी में फिर से दस्तावेजों की बिक्री करने का काम शुरू हुआ। शाम 6 बजे तक करीब 60 से अधिक दस्तावेजों की बिक्री होने की जानकारी मिली है।

    रेरा नियमों के विरुद्ध लग रही है बिक्री
    हिंगना के सह दुय्यम निबंधक वर्ग 2 कार्यालय में पिछले कुछ दिनों से लाखो रुपए की लेन देन कर रेरा नियमो के विरुद्ध दस्तावेजों की सह दुय्यम निबंधक (रजिस्टार) ए के नासरे द्वारा रजिस्ट्री लगाए जाने के आरोप लगाए गए हैं। इस मामले की शिकायत 7 अक्टूबर को वानाडोगरी के सामाजिक कार्यकर्ता स्वप्निल दाभेकर ने नागपुर ग्रामीण के सह जिला निबंधक वर्ग 1 तथा मुद्रांक जिलाधिकारी ए पी हांडा को मिलकर की थी। साथ ही श्री राम सेना के जिला अध्यक्ष कमलेश सिंह ठाकुर ने भी 12 अक्टूबर 2020 को मुख्यमंत्री के नाम का निवेदन सह जिला निबंधक वर्ग 1 नागपुर ग्रामीण को सौंपा। जिसमे साफ़ लिखा गया था कि हिंगना के सह दुय्यम निबंधक (रजिस्टार) ए के नासरे द्वारा रेरा नियमों को ताक पर रखकर दस्तावेजों की बिक्री लगाई जा रही है। इस मामले की जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की थी।

    15 दिन बाद भी नहीं हुई करवाई
    हिंगना रजिस्टार कार्यालय में रेरा नियमों के विरुद्ध बिक्री को लेकर 7 अक्टूबर को स्वप्निल दाभेकर ने और 12 अक्टूबर को कमलेश सिंह ठाकुर शिकायत की थी। लेकिन 15 दिन बीत जाने के बाद भी अब तक ना ही रेरा नियमों के विरुद्ध हो रही बिक्री पर प्रतिबंध लगाया गया। ना ही रजिस्ट्रर पर किसी तरह की ठोस कार्रवाई की गई। जिससे इसमें वरिष्ठ अधिकारी की भूमिका पर सवाल उठाए जा रहे हैं।

    याद रहे कि कोरोना महामारी से बचने के लिए केंद्र व राज्य सरकार द्वारा कुछ नियमों का पालन करना जरूरी है। जिसमे शोशल डिस्टन, मुंह पर मास बाधना आदि का समावेश है। लेकिन हिंगना के सह दुय्यम निबंधक (रजिस्टार) कार्यालय में सुबह से शाम तक इस नियमों का उलंघन किया जा रहा है। जिससे कोरोना बीमारी में बढ़ोतरी होने की आशंका है। याहापर कार्यालय के अंदर रूम लोगो से कचाकच भरा हुआ है और बाकी लोग बाहर इंतजार में खड़े नजर आते हैं। कोई भी शोशल डिस्टन का पालन करता नजर नहीं आता। साथ ही कई लोगो के मुंह पर मास नहीं दिखता। रजिस्ट्रार अपने ही काम में व्यस्त रहते हैं।

    झगडा कार्यालय के अंदर नहीं हुआ
    यहां जो झगडा हुआ है वह कार्यालय के अंदर नहीं बाहर हुआ है। नियमों के अनुसार की दस्तावेजों की बिक्री लगाई जा रही है। सह दुय्यम निबंधक (रजिस्टार) कार्यालय को रेरा नियम लागू नहीं होते। इसका परिपत्रक है। सब नियम के अनुसार ही हो रहा है।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145