Published On : Thu, Oct 12th, 2017
nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

“निर्माण कार्य में ५ डी-बीम की भूमिका अहंम” : सिंगापूर में आयोजित ३ दिवसीय विश्व स्तरीय सम्मेलन में डॉ. दीक्षित ने कहा

Maha Metro, 5D-BIM Digital Platform, Nagpur
नागपूर:
आधुनिक युग के इस दौर में निर्माण कार्य क्षेत्र में ५ डी-बीम प्रणाली बेहद सटीक उपयोगी साबित हो रही है . देश में पहली बार नागपूर मेट्रो रेल परियोजना में इस प्रणाली को आत्मसात किया, जिसके नतीजे काफी अच्छे प्राप्त हो रहे है . पारदर्शी कार्यप्रणाली के चलते ५डी – बीम मॉडेल समय और लागत प्रबंधन में अहंम भूमिका निभाता है, उक्त विचार महा मेट्रो के व्यवस्थापकीय संचालक डॉ. बृजेश दीक्षित ने व्यक्त किये वे सिंगापूर में बेंटले कंपनी कि और से आयोजित ३ दिवसीय विश्व स्तरीय संम्मेलन में मुख्य वक्ता के बतौर संबोधित कर रहे थे .

श्री.ग्रेग बेंटले,मुख्य कार्यकारी अधिकारी,बेंटले सिस्टीम ने डॉ.बृजेश दीक्षित कि दूरदृष्टी कि सराहना करते हुए कहा कि डॉ.दीक्षित ने इस प्रणाली कि उपयोगिता को पहचान कर ही भारत देश कि मेट्रो रेल परियोजना में पहली बार नागपूर मेट्रो में इसे लागू किया है .

संमेलन में विश्व के अनेक देशो के प्रतिनिधीयो ने शिरकत कि . नागपूर मेट्रो रेल परियोजना में ५डी-बीम प्रणाली लागू करने पश्च्चात आये अनुभवो को व्यक्त करते हुए डॉ. दीक्षित ने कहा कि, डिजाईन और निर्माण प्लान रेल्वे में सबसे महत्वपूर्ण है . ५ डी-बीम प्रणाली कि मुख्य बात यह है कि, कॉमन डेटा एक हि स्थान पर उपलब्ध रहता है . सॉफ्टवेयर प्रोसेस जो है, उससे समय और बजट में मदत मिलती है . कार्य पुरा होते हि,बिल अपग्रेड अकांउंट के हिसाब से हो जाता है .

उन्होने कहा कि देश की सभी मेट्रो रेल परियोजना में से नागपूर मेट्रो रेल परियोजना ही एक मात्र ऐसी है जहा ५ डी-बीम प्रणाली को लागू किया गया . पुणे मेट्रो रेल में भी इस प्रणाली को, लागू करने कि उन्होने जानकारी देते हुए कहा कि, ऐसे परियोजना में पहले दिन से ही इस प्रणाली को लागू कर दिया जाये तो काफी काम हल्का हो जाता है, साथ ही पुरा कामकाज पारदर्शी रहता है . उन्होने कहा कि परियोजना पुरी होने के बाद भी इस प्रणाली के माध्यम से परियोजना कि कार्यप्रणाली को आसानी से देखा और समझा जा सकता है .

बेंटले कि और से विश्व के अग्रणीय इंफ्रास्ट्रक्चर डिजाइन, निर्माण और इंफ्रास्ट्रक्चर – २०१७ के अधिकारियो के अनुभव जानने के उद्देश्य से ३ दिवसीय विश्व स्तरीय संमेलन का आयोजन किया गया था.

Stay Updated : Download Our App
Advertise With Us