Published On : Mon, Aug 22nd, 2016

75 हजार नागरिकों को मिलेगा लाभ, समाधान शिविर में 12 हजार आवेदनों पर हुआ निर्णय

bawanNagpur: शहर में मुख्यमंत्री समाधान शिविर के माध्यम से अब तक जोन अनुसार दो शिविर आयोजित किए गए. इन शिविरों में 15 हजार से अधिक नागरिकों के आवेदन प्राप्त हुए थे.

इनमें से 12 हजार आवेदनों पर निर्णय लिया गया है. अब 23 अगस्त से तीसरा समाधान शिविर हनुमाननगर जोन के अतंर्गत ईश्‍वर देशमुख शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय में आयोजित किया जा रहा है.

अगले एक माह में इन शिविरों के माध्यम से शहर के 75 हजार नागरिकों की समस्याओं को सुलझाने का प्रयास किया जाएगा. यह जानकारी रविवार को पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने हैदराबाद हाउस में आयोजित पत्रकार परिषद में दी.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के निर्देशानुसार विधानसभा क्षेत्र अनुसार लिए जाने वाले शिविरों का विकेंद्रीकरण करके नागपुर महानगरपालिका के जोन अनुसार शिविर आयोजित किए गए है. इस अभियान को ‘मुख्यमंत्री समाधान शिविर, सरकार आपके द्वार’ नाम दिया गया है. इसकी शुरुआत लक्ष्मीनगर जोन से हुई. पहला शिविर 9 से 12 अगस्त तक विदर्भ वैधानिक विकास मंडल के कार्यालय परिसर में आयोजित किया गया था. दूसरा शिविर धरमपेठ जोन परिसर में लिया गया. इन दोनों शिविरों को नागरिकों का अच्छा प्रतिसाद मिला. लक्ष्मीनगर जोन अंतर्गत शिविर में कुल 9091 आवेदन आए थे. जिसमें से 7969 आवेदनों पर निर्णय लिया गया है. इनमें से करीब 35 मामूली खामियों के चलते प्रलंबित है.

जबकि 1122 आवेदनों पर निर्णय लेने की प्रक्रिया शुरू है. इस शिविर में 5726 आवेदन आधार कार्ड व स्मार्ट कार्ड के लिए आए. जिसमें से 5026 आवेदन पर फैसला हुआ. सेतु केंद्र द्वारा प्राप्त आय,जाति सहित विविध प्रमाणपत्रों के लिए कुल 1825 आवेदन मिले है. इसमें से 1790 आवेदन निपटा लिए गए है. इसी तरह 649 वरिष्ठ नागरिकों को कार्ड वितरित किए गए है. इसके साथ ही धरमपेठ जोन अंतर्गत आयोजित शिविर में कुल 5194 आवेदन आए थे. इनमें से 3768 आवेदनों पर निर्णय लिया गया. जबकि 1427 आवेदन प्रलंबित है. आधार कार्ड के लिए 3185 आवेदन किए गए थे.

इनमें से 2574 नागरिकों को आधार कार्ड दिया गया. इसमें से 611 नागरिकों का काम प्रलंबित है. उन्हें भी जल्द कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे. उन्होंने बताया कि सेतु सुविधा केंद्र के माध्यम से 1172 आवेदन प्राप्त हुए थे. इनमें से 896 आवेदन पर निर्णय हो गया है. जबकि 276 आवेदन प्रलंबित है. इसके अलावा 82 नागरिकों को वरिष्ठ नागरिक कार्ड दिया जाएगा. पत्रकार परिषद में विधायक सुधाकर कोहले, नागपुर सुधार प्रन्यास के सभापति दीपक म्हैसेकर, आशा पठाण, रमेश सिंगारे, सूर्यकांत मोरे आदि अधिकारी प्रमुखता से उपस्थित थे.