Published On : Mon, Feb 10th, 2020

हिंगणघाट: वर्धा में एकतरफा प्यार में जिंदा जलाई गई लेक्चरर की 8 दिन बाद मौत

नागपुर. महाराष्ट्र के वर्धा जिले में 8 दिन पहले एकतरफा प्यार में जिंदा जलाई गई लेक्चरर Teacher ने सोमवार को नागपुर के अस्पताल में दम तोड़ दिया। हिंगणघाट Hinganghat में 3 फरवरी को एक सिरफिरे ने शादी करने से इंकार पर लड़की को पेट्रोल डालकर सरेआम जिंदा जला दिया था। इस घटना में 25 वर्षीय अंकिता Ankita गंभीर रूप से झुलस गई थी। ऑरेंज सिटी हॉस्पिटल OCHRI के डायरेक्टर डॉ. अनूप मरार Dr Anup Marar ने बताया कि सुबह 6.55 बजे लड़की की मौत हो गई। मौत का संभावित कारण सेप्टिकमिक अटैक था।

घटना के दौरान 40% जल चुकी अंकिता वेंटीलेटर पर थी, उसकी आंखों की रोशनी भी चली गई थी। इसके बाद पुलिस ने आरोपी विकेश नागराले (27) को गिरफ्तार कर लिया था। वह शादीशुदा और एक बच्चे का पिता है। सीएम उद्धव ठाकरे ने पीड़ित का इलाज मुख्यमंत्री राहत कोष से करवाने की घोषणा की थी।

पहले से फिराक में था सिरफिरा, स्कूटी से पेट्रोल निकाला और आग लगा दी

वर्धा जिले के दरोदा गांव की रहने वाली अंकिता महिला कॉलेज में लेक्चरर थी। घटना के वक्त वह रोज की तरह 75 किमी दूर कॉलेज जाने के लिए बस में सवार हुई थी। हिंगणघाट में कॉलेज नजदीक आने पर बस से उतरी। वहां पहले से मौजूद विकेश अपनी स्कूटी से पेट्रोल निकालकर अंकिता के पास आया। लेक्चरर कुछ समझ पाती, इससे पहले विकेश ने उस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी और वहां से भाग गया था।

अंकिता को स्कूली बच्चियों ने बचाया था

वारदात के वक्त स्कूल जाने वाली कुछ बच्चियां वहां से गुजर रही थीं। अंकिता को झुलसते देख इन बच्चियों ने शाेर मचाकर आसपास के लोगों को बुलाया। लोगों ने अंकिता पर पानी डाला। तब तक उसका चेहरा 40% तक झुलस चुका था। उसका सिर, चेहरा, बायां हाथ, पीठ और गर्दन झुलस गई थी।

आरोपी पहले से शादीशुदा, उसने खुदकुशी की भी कोशिश की थी

पुलिस के मुताबिक, अंकिता और विकेश में पहले बातचीत थी। बाद में विकेश की शादी हो गई। इसके बाद भी वह अंकिता से शादी करना चाहता था और उसे बात करने की कोशिश करता था। लेकिन अंकिता बातचीत से इनकार करती थी। इसी के चलते विकेश ने तीन महीने पहले खुदकुशी की कोशिश की थी। विकेश 4 महीने की बच्ची का पिता है।