Published On : Mon, Feb 16th, 2015

अकोला में स्वाईन फ्लू के दो मरीज


शासकीय वैधकीय महाविद्यालय प्रशासन सतर्क

आईसोलेशन कक्ष कार्यान्वित

अकोला। स्वाईन फ्लू के दो मरीज पाजिटिव पाए जाने के बाद अकोला के सर्वोपचार अस्पताल में आईसोलेशन कक्ष स्थापित इस कक्ष में स्वाईन फ्लू प्रतिबंधक यंत्रणा लगाई गई है. इस संदर्भ में स्वास्थ्य विभाग ने वृद्ध तथा बच्चों में सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए हैं. अकोला जिले में स्वाईन फ्लू की जांच में दो मरीज पाजिटिव पाए जाने के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है.

शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय के अधिष्ठाता डा. अशोक राठोड ने आईसोलेशन कक्ष में स्वाईन फ्लू की वैक्सीन, टामीफ्लू नामक दवाइयां एवं मरीजों की जांच के लिए विशेष वेंटीलेटर की व्यवस्था की है. स्वास्थ्य उपसंचालक डा. लव्हाले के मार्गदर्शन में जिला स्वास्थ्य अधिकारी एवं जिला शल्य चिकित्सक के अधीनस्थ वैद्यकीय अधिकारी, स्वास्थ्य सेवक, अधिपरिचारिकाओं को प्रशिक्षित किया गया है. स्वास्थ्य विभाग ने कुछ हिदायतें दी हैं, जिसके अंतर्गत हाथ को साफ पानी से तथा साबुन से बार-बार धोएं, पोष्टिक आहार लें, धूम्रपान न करें, पर्याप्त नींद तथा विश्राम लें एवं खूब पानी पियें लेकिन चिकित्सक की सलाह के बिना दवाई न लें. स्वाईन फ्लू के संभावित खतरे को देखते हुए सर्वोपचार अस्पताल में कार्यरत कर्मचारियों को मुंह पर रूमाल बांधने, माक्स लगाने के निर्देश दिए गए हैं. बच्चों की विशेष देखभाल के लिए शालाओं में सूचना जारी की गई है, जिसमें सर्दी के साथ हल्का बुखार, बदन दर्द या गले में खिचखिच होने पर तत्काल परामर्श लेने के निर्देश दिए गए हैं.

Swine-flu