| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Feb 20th, 2021

    नागपुर में 6 मंगल कार्यालयों से वसूला 1.89 लाख हर्जाना

    नागपुर: शहर में तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने प्रशासन ने पूरी ताकत झोंक दी। संक्रमण में सुपर स्प्रेडर साबित हो रहे विवाह समारोह में जुट रही भीड़ पर लगाम कसने के लिए प्रशासन ने फिर से नियमों को सख्त कर दिया है। लॉन, मंगल कार्यालय और सभागृह में 50 लोगों की उपस्थिति और पूर्व अनुमति की शर्त लागू कर दी है। इस बीच लॉन, मंगल कार्यालयों को औचक निरीक्षण कर जांच भी शुरू कर दी। इन बंदिशों के बावजूद न बाराती खुद पर नियंत्रण नहीं कर पा रहे और न शादी वाले लगाम कस पा रहे हैं। ऐसे में लॉन, मंगल कार्यालयों में नियमों की धज्जियां उड़ रही हैं।

    6 लॉन, मंगल कार्यालयों में नियमों का पालन नहीं होने से उनके खिलाफ 1 लाख 89 हजार रुपए का हर्जाना ठोका गया। इसमें वर्धा रोड, हिंदुस्तान कॉलोनी स्थित चंद्रमणि हॉल से 25 हजार रुपए, धरमपेठ स्थित कुसुमताई वानखेडे सभागृह से 10 हजार रुपए, वर्धमान नगर स्थित सातवचन लॉन से 15 हजार रुपए, एचबी टाउन स्थित होटल गोमती से 5 हजार रुपए, गोरेवाड़ा रोड स्थित श्याम लॉन से 25 हजार रुपए और केआरसी लॉन से 25 हजार रुपए का जुर्माना वसूला गया। इस बीच तीन दिन में मनपा ने 267 लॉन, मंगल कार्यालय और सभागृह की जांच कर उनमें नियमों का पालन हो रहा है या नहीं? इसकी भी जांच की। हालांकि ज्यादातर में आयोजन नहीं मिले।

    आयोजकों के सामने परेशानी
    नवंबर के बाद कोरोना संक्रमण में तेजी से कमी आई है। ऐसे में लोगों ने बड़े पैमाने पर विवाह समारोह के आयोजन किए हैं। दो महीने पहले से इसके निमंत्रण कार्ड भी बांट दिए हैं। अचानक कोरोना संक्रमण में आई तेजी से नए नियम लागू होने से विवाह समारोह के आयोजकों की दिक्कतें बढ़ गई हैं। निमंत्रण पत्रिका बांटने के बाद अब कैसे लोगों को न कहें? यह सवाल परेशान कर रहा है। ऐसे में जिन्हें निमंत्रण पत्रिका दी गई है, वे सभी शादियों में शामिल हो रहे हैं। जिस कारण नियमों का सरेआम उल्लंघन हो रहा है।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145