Published On : Sun, Aug 2nd, 2020

सैटलाइट तस्वीरों में दिखा चीन से खतरा, लद्दाख की ओर तैनात लंबी रेंज के बॉम्बर जेट

एक ओर जहां चीन के नेता वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत के साथ शांति और स्थिरता कायम करने का दावा कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) सीमा के पास ही अपनी ताकत बढ़ाती जा रही है। ताजा तस्वीरों में PLA की इस चाल की पोल खुली है। इनमें देखा जा सकता है कि सीमा पर चीन की PLA की एयरफोर्स काशगर एयरपोर्ट पर तैनात है।

ओपन सोर्स इंटेलिजेंस सोर्स Detresfa की सैटलाइट इमेज में दिखाई दिया है कि एयरबेस पर रणनीतिक बॉम्बर और दूसरे असेट भी तैनात हैं। लद्दाख से यहां की दूरी को देखकर आशंका जताई गई है कि भारत से तनाव के चलते तैनाती की गई है। सैटलाइट तस्वीरों में दिखाया गया है कि इस बेस पर 6 शियान H-6 बॉम्बर हैं जिनमें से दो 2 पेलोड के साथ हैं। इनसे मिसाइल होने की आशंका जताई गई है। इनके अलावा 12 शियान Jh-7 फाइटर बॉम्बर हैं जिनमें से दो पर पेलोड हैं। वहीं, 4 शेनयान्ग J11/16 फाइटर प्लेन भी हैं जिनकी रेंज 3530 किलोमीटर है।


खतरनाक हैं H-6 बॉम्बर

खास बात यह है कि चीन ने H-6J और H-6G विमानों के साथ साउथ चाइना सी में भी ड्रिल की है। इस क्षेत्र में पहले से कायम तनाव के बीच चीन ने जिन जहाजों के साथ ड्रिल की है, वे H-6J सात YJ-12 सुपरसोनिक ऐंटी-शिप क्रूज मिसाइल ले जा सकते हैं जिनमें से 6 इसके पंखों के नीचे के लग सकते हैं। इस ड्रिल को रक्षा मंत्रालय ने रूटीन बताया और कहा कि इससे जंग के समय तैयार रहने का अभ्यास किया गया है।