Published On : Wed, May 7th, 2014

वर्धा : साबा जिनिंग प्रेस में लगी आग; करोडों का नुकसान


वर्धा

jining Press Fire 3
शहर के साबा जिनिंग प्रेस में कल 4.30 बजे आग लगने से लाखों का नुकसान हो गया. आग में 1 हजार कपास की गांठें जलने का अनुमान है. हवा तेज होने से आग ने जल्दी ही विकराल रूप ले लिया. आग बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड की पांच गाडियों को बुलाना पडा.

प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के साबाजी जिनिंग में काम शुरू था. इस बीच रेचे से चिंगारी निकली और कपास ने आग पकड. ली. परिसर में हवा तेज होने से आग ने जल्दी ही भीषण रूप ले लिया. लगातार 3 घंटे तक आग बुझाने का प्रयास चलता रहा, लेकिन आग की लपटे कम नहीं हो रही थी.

आग बुझाने के लिए उत्तम गल्वा फायर ब्रिगेड,पुलगांव सीएडी कैंप से दो और वर्धा से दो फायरब्रिगेड दल आग बुझाने के लिए बुलाया गया. घटनास्थल पर उपविभागीय पुलिस अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार ने घटनास्थल का जायजा लिया. साबाजी जिनिंग एंड प्रेसिंग के मालिक महेश अग्रवाल ने बताया कि इस आग से 1 हजार कपास की गांठें सहित 3 हजार क्विंटल कपास जलकर राख हो गया है. देवली के साबाजी जिनिंग में धूं धूं कर जलता कपास. इंसेट में सुलगता कपास. भारी पड़ी न.प. की लापरवाही

Jining Press 4

दूर दृष्टिकोण नहीं रखने वाले जनप्रतिनिधियों की लापरवाही जनता को भुगतनी पड.ती है. देवली नगर परिषद को सरकार ने फायर ब्रिगेड के लिए निधि उपलब्ध कराई थी, लेकिन नगर परिषद के लापरवाह प्रशासन ने फायर ब्रिगेड की राशि को अन्य कार्यों में खर्च कर दिया. इसके चलते आग बुझाने के लिए बाहर के शहरों से फायर ब्रिगेड बुलानी पड़ी. फायर ब्रिगेड दल को आने में देरी होने की वजह से आग ने भीषण रूप ले लिया था. शहरवासी अब इस लापरवाही का जवाब न.प. से मांगेंगे.