Published On : Wed, Jun 11th, 2014

वरोरा : जिएमआर कंपनी में डोझर में कुचला गया युवक


कुछ समय रहा तनाव का माहोल ; पोस्टमार्टम रूका

कंपनी व्यवस्थापन ने की 19 लाख की मदद

वरोरा

वरोरा कंपनी के परिसर में डोझर द्वारा जमीन की लेवलिंग करते समय इस परिसर में सोये हुए युवक महेंद्र खंडालकर (21) निमसड निवासी गाड़ी के चैन के निचे कुचला गया. इस दुर्घटना में उसकी मौत हो गई. यह घटना रात 3 बजे के करीब घटी.

महेंद्र खंडलकर यह इस कंपनी में डोझर पर कंडक्टर पद पर कार्यरत था. रात की ड्यूटी होने से ड्राइवर आरोपी सुरेश शंकर कांबले ने उसे डोझर क्र.डी. 8080 में डीज़ल डालने को कहा और वो वहा से निकल गया. रात 3 बजे के करीब उसने डोझर शुरू कर जमीन की लेवलिंग करनी शुरू की तथा कंडक्टर महेंद्र इसी जगह चटाई डालकर सो गया है इसकी कल्पना आरोपी को नहीं थी. लेवलिंग करके पीछे लेवलिंग हुई है की नहीं देखने के लिए चालक पीछे मुडा तो मृतक डोझर के चैन में आ कर कुचल गया है ऐसा देखते ही आरोपी चालक ने इसकी खबर त्वरित कंपनी के अधिकारीयों को दी तथा इस घटना की जानकारी पुलिस विभाग को दी गई. मृतक का शव पोस्टमार्टम के उपजिला रूग्णालय में लाया गया. इस दौरान मनसे जिला उपाध्यक्ष प्रवीण सूर ने मृतक के परिवार को 20 लाख की मदद दी जाये ऐसी मांग पकड़ बैठे थे. इस वजह से कुछ समय तनाव निर्माण हुआ था. आख़िरकार कंपनी प्रशासन के तरफ से 19 लाख 50 हजार रूपये का धनादेश व 50 हजार रूपये नगद दिए गए. उसके बाद शव का पोस्टमार्टम किया गया.

File Pic

File Pic