Published On : Fri, Apr 4th, 2014

यवतमाल: सरकार तो कांग्रेस की ही बनेगी – राहुल गांधी

Advertisement

 

राहुल गांधी ने यवतमाल में भरोसा जताया
कहा- सबको साथ लेकर चलेंगे, इसके बगैर परिवर्तन सम्भव नहीं  

Rahul-Gandhiयवतमाल.

Advertisement
Advertisement

देश का किसान हमारी अर्थव्यवस्था की रीढ है. उसे रीढ की हड्डी कहा जाता है. इसीलिये कांग्रेस हमेशा किसानों की प्रगति के बारे में ही सोचती है. कांग्रेस सबको साथ लेकर चलने पर विश्वास करती है. देश के विकास के रास्ते पर गरीब, आदिवासी, दलित, महिला सहित समाज के सभी घटकों को साथ लेकर चलना होगा. आम आदमी और समाज के सभी घटकों को सत्ता में शामिल किये बगैर परिवर्तन नहीं होगा.

यह बात कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और स्टार प्रचारक राहुल गांधी ने कही. वे यवतमाल-वाशिम क्षेत्र तथा चंद्रपुर-आर्णी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशियों के प्रचार के लिए स्थानीय पोस्टल मैदान पर आयोजित सभा में बोल रहे थे. अपने 20 मिनट के भाषण में उन्होंने बिना नरेंद्र मोदी का नाम लिए विपक्ष की खूब खिंचाई की.

साढ़े 11 बजे की सभा पूरे एक घंटा देरी से शुरू हुई, मगर भीड़ अपनी जगह से हिली तक नहीं. मंच पर मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण, कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी मोहन प्रकाश, प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे, जिले के पालकमंत्री नितिन राउत, विधायक बाजोरिया, राज्य के सामाजिक न्याय मंत्री शिवाजीराव मोघे और सांस्कृतिक मंत्री संजय देवतले मौजूद थे.

कांग्रेस का एजेंडा सबका विकास

राहुल गांधी ने भरोसा जताया कि 2014 के चुनाव के बाद भी सरकार कांग्रेस की ही बनेगी. राहुल ने कहा कि विपक्ष कांग्रेस को समाप्त करने की बात करता है, मगर उसे कांग्रेस का इतिहास पता ही नहीं है. प्रेम और बंधुत्व के आधार पर देश के आम आदमी को लेकर कांग्रेस आगे बढ़ रही है.बाबासाहेब आंबेडकर, महात्मा गांधी और छत्रपति शिवाजी महाराज का रास्ता भी यही था. कांग्रेस का एजेंडा भी सबका विकास है, लेकिन कांग्रेस इस बात पर खास ध्यान रखती है कि विकास के दौरान गरीबों का नुकसान न हो और उन्हें सुरक्षा मिले तथा उनके अधिकार बाधित न हों.

उन्होंने विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि 2004 में जब किसानों को 70 हजार करोड़ रूपया दिया गया तो विपक्ष ने कहा था कि पैसा कहाँ से आएगा. हमने बैंकों के दरवाजे खोलकर किसानों की सहायता की. विपक्ष अक्सर यह आरोप लगाता रहता है कि बड़े लोगों अथवा उद्योगपतियों को दिया जानेवाला पैसा बेकार नहीं जाता, लेकिन जब वही पैसा किसानों को दिया जाता है तो बेकार हो जाता है. श्री गांधी ने कहा कि विपक्ष भ्रष्टाचार पर खूब बोलता है, मगर उसे कर्नाटक, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, गुजरात का भ्रष्टाचार दिखाई नहीं देता.

विदर्भ का बैकलॉग दूर किए बगैर चुप नहीं बैठेगी सरकार : चव्हाण 

मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने इस मौके पर दावा किया कि गुजरात की तुलना में महाराष्ट्र ने काफी तरक्की की है उन्होंने विपक्ष को चुनौती देते हुए कहा कि विकास के महाराष्ट्र मॉडल पर किसी भी मंच पर बहस करने के लिए वे तैयार हैं. विदर्भ के बैकलॉग पर श्री चव्हाण ने कहा कि कांग्रेस सरकार विदर्भ का बैकलॉग दूर किये बगैर चुप नहीं बैठेगी. राज्यपाल के निर्देशों का पूरी तरह से पालन किया जाएगा. औद्योगिक बैकलॉग दूर करने के लिए एडवांटेज विदर्भ में 27 हजार करोड़ का करार किया गया है.

30 से 35 लोकसभा सीटें मिलने का दावा 

प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे ने दावा किया कि महाराष्ट्र की 30 से 35 लोकसभा सीटें कांग्रेस मोर्चे को ही मिलेगी. जोगेन्द्र कवाडे ने हिंदी और मराठी में विपक्ष पर जोरदार प्रहार किया.

राज्य विधानसभा के उपाध्यक्ष वसंत पुरके ने सभा का संचालन किया जबकि कांग्रेस के स्टार प्रचारक विधायक हरिभाऊ राठोड ने आभार माना।

Rahul-Gandhi-1

राहुल ने गिनाईं उपलब्धियां 

-किसानों की जमीन का उचित दाम मिले इसलिए भूमि अधिग्रहण बिल लाया गया.

-एक सौ दिनों के रोजगार के लिए मनरेगा योजना लागू की गई.

-सबको भोजन का अधिकार देने के लिए खाद्यान्न सुरक्षा योजना लागू की गई. इस योजना के बाद देश में कोई भी भूखा नहीं रहेगा.

– स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के लिए राजीव गांधी जीवनदायी योजना लाई गई.

-सूचना का अधिकार देकर आम आदमी को शक्ति प्रदान की गई और प्रशासन में पारदर्शिता लाई गई.

राहुल की घोषणाएं 

-महाराष्ट्र  और राजस्थान की तर्ज पर पूरे देश में सभी सरकारी अस्पतालों से नि:शुल्क दवा वितरण योजना चलाई जाएगी. किसान और आम आदमी को इस योजना का लाभ मिलेगा.

-सबको घर देने का संकल्प भी है.

-युवाओं को रोजगार देने की दृष्टि से एक मैन्युफैक्चरिंग कॉरिडोर बनाया जाएगा. दिल्ली से चेन्नई और मुम्बई से कोलकाता तक उद्योगनगरी बसाई जाएगी, जहां लाखों-करोड़ों युवाओं को रोजगार मिलेगा. चीन में बननेवाली सारी वस्तुएं यहां बनाई जाएंगी.

-महिलाओं को विधानसभा और लोकसभा में 33 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा.

-महिलाओं की सुरक्षा के लिए देश भर में 2 हजार महिला पुलिस स्टेशन खोले जाएंगे.

 

 

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement