Published On : Tue, May 27th, 2014

मूल : जुनासुर्ला ग्राम पंचायत के 5 सदस्य अयोग्य घोषित


विभिन्न टैक्स बकाया होने पर जिलाधिकारी ने की कार्रवाई


मूल

मूल तालुका के तहत राजनीतिक दृष्टि से संवेदनशील मानी जानेवाली जुनासुर्ला ग्राम पंचायत के 5 सदस्यों को चंद्रपुर के जिलाधिकारी ने अयोग्य घोषित कर दिया है. इन सदस्यों पर ग्राम पंचायत के विभिन्न टैक्स बकाया हैं. जिन सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई की गई है उनमें श्यामराव मेश्राम, वर्षाताई मडावी, राजेश गोवर्धन, संदीप गिरडकर और परिचारिका गोवर्धन शामिल हैं.

2010 में हुए जुनासुर्ला ग्राम पंचायत के चुनाव में निर्वाचित 11 सदस्यों में 9 भाजपा के और 2 सदस्य कांग्रेस के हैं. विलास कलसार सरपंच और अजय खोब्रागड़े उपसरपंच चुने गए. ढाई साल में ही गुट के सदस्यों ने सरपंच कलसार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला दिया. अपना पद बचाने के लिए सरपंच कांग्रेस में शामिल हो गए और अविश्वास प्रस्ताव अपने आप निरस्त हो गया. इसी बीच पांच सदस्यों पर ग्राम पंचायत के टैक्स बकाया होने की शिकायत 9 अक्तूबर 2013 को चंद्रपुर के जिलाधिकारी को की गई. जिलाधिकारी ने पंचायत समिति के स्तर पर मामले की जांच के बाद उक्त कार्रवाई की.

5 सदस्यों के अयोग्य ठहराए जाने के साथ ही 11 सदस्यों वाली जुनासुर्ला ग्राम पंचायत अल्पमत में आ गई है. चर्चा है कि 5 सदस्यों के चुनाव तक ग्राम पंचायत का कारोबार प्रशासक के सुपुर्द किया जाएगा.


Representational Pic

Representational Pic