Published On : Fri, Jun 13th, 2014

मूल : कहीं आ रहा पानी, कहीं सूखे पड़े नल

मूल

पिछले दस दिनों से स्थानीय वार्ड 14 के नागरिक गुरुदास गुरनुले के घर के नल से एक बूंद पानी नहीं आया है. मजे की बात यह है कि गुरनुले के पड़ोसी श्री पोकले के घर के नल में बराबर पानी आ रहा है. नागरिक इस गुत्थी को समझ पाने में नाकाम रहे हैं.

नलयोजना भी नाकाम
शहर में बढ़ते जलसंकट के चलते लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में नलयोजना से कुछ उम्मीद बंधी थी, मगर वह भी नाकाम साबित हो रही है. आसपास रहने वाले लोगों के घरों में ही नल आंखमिचौली खेल रहे हैं. इस संबंध में जब नगर परिषद के जलापूर्ति विभाग के ध्यान में यह बात लाई गई तो उसने विभाग के कर्मचारी श्री दुधे को जांच के लिए भेजा. दुधे ने जांच कर अपनी रिपोर्ट विभाग को दे दी, मगर 5 दिन बीतने के बाद भी स्थिति ज्यों की त्यों बनी हुई है.
बताया जाता है कि गुरनुले का घर नल कनेक्शन के अंतिम छोर पर है और उनके घर में कभी भी पर्याप्त पानी नहीं आता.

आदेश निकले छह माह बीते
प्रभाग 4 के वार्ड 14 और 15 में भी कुछ नागरिकों को नल का पानी नहीं मिलता. इसके उपाय के रूप में नगर परिषद ने नई पाइपलाइन डालने का आदेश 6 माह पहले ही ठेकेदार को दिया था, मगर कुछ नहीं हो पाया है.

Representational Pic

Representational Pic