Published On : Sun, Oct 12th, 2014

भाजपा का पहला विकेट लेने वाला केदार: डॉ राऊत

राऊत के इस सकारात्मक पहल पर सोनिया गांधी ने दोनों की पीठ थपथपाई

photoनागपुर टुडे 

शनिवार की दोपहर लगभग ढाई बजे कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी का आगमन हुआ.वे गोंदिया दौरे पर आई थी. जिनका नागपुर विमानतल पर विधानसभा चुनाव लड़ने वाले नागपुर शहर व जिला के सभी १२ उम्मीदवारों सह पदाधिकारियों ने स्वागत सत्कार किया. विमानतल पर शहर के पूर्व पालकमंत्री डॉ नितिन राऊत श्रीमती सोनिया गांधी  का सहर्ष अभिवादन करने के बाद जिले के सावनेर विधानसभा क्षेत्र के युवा तडफदार कांग्रेसी उम्मीदवार सुनील केदार का उनसे इस अंदाज में परिचय करवाया कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव  भाजपा का पहला विकेट सुनील ने ही लिया. इससे यह आभास हुआ कि जिले में कांग्रेस नेताओं के मध्य एकता का ज्वलंत का सबसे श्रेष्ठ उदहारण और कुछ नहीं हो सकता है. राऊत के इस सकारात्मक पहल पर सोनिया गांधी ने दोनों की पीठ थपथपाई.

Nitin-1

डॉ राऊत की हौसला अफजाई से लबरेज सुनील केदार ने सोनिया गांधी से कहा कि विदर्भ में कांग्रेस का नुकसान का जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण होंगे. इस  मुद्दे को सोनिया गांधी ने अल्प विराम लगाते हुए कहा कि सुनील चुनाव के बाद इस मुद्दे पर चिंतन-मनन करेंगे.

कांग्रेस उम्मीदवारों के प्रचारार्थ दबंग नेता मुन्ना शुक्ला ने डेरा डाला 

बिहार में महागठबंधन व  बाहुबली नेता मुन्ना शुक्ला ने नागपुर में रह रहे उत्तर भारतीयों के हितार्थ विधानसभा चुनाव हेतु नगर में पिछले ३ दिन से डेरा डालें हुए है.संभवतः १५ अक्टूबर को मतदान के बाद ही नागपुर छोड़ेंगे. इस दौरान रोजाना सुबह से ही उत्तर भारतीय नेताओं और समर्थकोँ को साथ लिए उत्तर भारतीयों के इलाकों में प्रत्यक्ष जनसम्पर्क का दौर जारी है.

लगभग प्रत्येक नुक्कड़ बैठक और सभा में इनका सम्बोधन उत्तर भारतीयों के हित से शुरू होकर उनके ही हित तक ख़त्म हो रहा है. इनका कहना यह है कि उत्तर भारतीयों का हितैषी मेरा साथी और उनका विरोधी मेरा दुश्मन. मंच से गरजते हुए शुक्ला  मोदी को ललकारा कि आप का श्रेठ बयां(अच्छे दिन ) देशवासियों के लिए  चुटकुला बन गया है. ठीक से माह नहीं गुजरे हाथ में झाड़ू पकड़ने के लिए मजबूर होना पद गया है. इसलिए उत्तर भारतीय भाई-बहनों मोदी के झांसे से बचे और उत्तर भारतीय के समर्थक उम्मीदवारों के पीछे एकता के साथ खड़े होकर खुद के सक्षमता का परिचय दे. हमलोग देश में उत्तर भारतीयों  हितैषियों के लिए जीते और मरते है. वक़्त पड़ा तो सफल अंजाम तक पहुँचने तक वहां कुंडली मार के बैठने में कोताही नहीं बरतते है.

इस दौरान कलमेश्वर एमआईडीसी में ६, सिल्लेवाड़ा माइंस में १ सभा की और इसके अलावा दहगॉव स्थित सनराइज होटल में उत्तर भारतीय नेता अरुण सिंह से कांग्रेस उम्मीदवार समर्थन में बैठक चर्चा कर पूर्ण सहयोग मांगे, जिसका सिंह ने खंभ ठोक कर समर्थन देने का आश्वासन दिया.

द्वारा:-राजीव रंजन कुशवाहा