Published On : Sat, Apr 12th, 2014

बुलढाणा जिले में एक ही दिन 4 लोगों ने आत्महत्या कर ली

sucide
खामगांव: बुलढाणा जिले में कल 11 अप्रैल को चार अलग – अलग घटनाओं में चार लोगों ने आत्महत्या कर ली. इसमें एक किसान, बालिका, विवाहिता और एक कृषि मजदूर का समावेश है.
प्राप्त जानकारी के अनुसार बुलढाणा की वृंदावन नगर निवासी 11 वर्षीय गायत्री महेंद्रसिंह पवार अपनी मां के डांटने से आत्महत्या कर ली. पांचवी कक्षा की गायत्री परीक्षा देने गई गई थी. बताया जाता है कि घर वापस लौटने पर उसकी मां ने उसे भोजन करने को कहा. गायत्री ने मां को बताया कि वह आइसक्रीम खाकर आई है. इस पर मां ने उसको डांटा। इस पर गुस्से में आकर गायत्री ने घर की दूसरी मंजिल पर जाकर गले में रस्सी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. घटना उजागर होते ही पवार परिवार में हड़कंप मच गया. घटना की जानकारी गोपाल पवार ने बुलढाणा शहर पुलिस थाने में दी. इस पर पुलिस ने मर्ग दाखिल कर घटना की जांच पीएसआई गोरे को सौंप दी है.
दूसरी घटना में चिखली तहसील के इसरूल निवासी किसान राधाकिसन भीकाजी सोलाट (29 ) ने गांव के समीपवाले खेत के बबूल के पेड़ पर रस्सी की सहायता से गले में फंदा लगाकर अज्ञात कारणों से आत्महत्या कर ली. मृतक राधाकिसन के पास 3 एकड की खेती है. वह अपने मां-बाप को इकलौता बेटा था. इस मामले में गणेश सोलाट की शिकायत पर से अंढेरा पुलिस ने मर्ग का पंजीयन किया है. आगे की जांच थानेदार प्रकाश डाबरे की मार्गदर्शन में एएसआय भानुदास जाधव कर रहे है.
तीसरी घटना में लोणार तहसील के पाड़ी दराडे निवासी संध्या संदीप कांबले को ससुराल के लोग मायके से दो लाख रुपए लाने के लिए प्रताड़ित करते थे. इससे तंग आकर आखिर संध्या ने अपने घर के कमरे में गले में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. इसकी शिकायत तुकाराम मोरे ने लोणार पुलिस थाने में की. पुलिस ने संदीप उर्फ़ पिन्या उद्धव कांबले, विजय कांबले, वर्षा कांबले, कलावतीबाई कांबले, सुनीता कांबले, उद्धव कांबले, छाया मोरे और संजीवनी कांबले (सभी निवासी पार्डी दराडे) के खिलाफ भादंवि की धारा 304 (ब) और 498 (अ) के तहत मामला दर्ज किया है.

चौथी घटना में बुलढाणा तहसील के मासरुल निवासी खेत मजदूर कमलेश नामदेव भागवत (30) ने अपने ही घर में नायलॉन की रस्सी की सहायता से गले में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. बताया जा रहा है कि वह कुछ दिनों से अज्ञात कारणों से परेशान था. इसके चलते उसने आत्महत्या कर ली. इसकी शिकायत सुरेश भागवत ने धाड़ पुलिस थाने में की. इस पर से पुलिस ने आकस्मिक मौत का मामला दर्ज किया है. मृतक कमलेश अपने पीछे पत्नी, एक पुत्र , एक  पुत्री सहित मां और एक भाई को शोकाकुल छोड़ गया.