Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sun, Jul 13th, 2014
    Vidarbha Today | By Nagpur Today Nagpur News

    नागपुर : दिनदहाड़े घर में घुस कर बुजुर्ग महिला की हत्या


    लूट के ईरादे से घर में घुसे थे दो नकाबपोश

    नागपुर

    Pic-51

    नागपुर के मनीष नगर जैसे रिहायशी इलाके में रहनेवाली एक बुजुर्ग महिला की 2 नकाबपोश लोगों ने घर में घुसकर ह्त्या कर दी. मृतक 52 साल की रौशनी पेटकर बताई जा रही है. इस सनसनीखेज़ वारदात को दिनदहाड़े अंजाम दिया गया. आरोपियों ने सेलोटेप गले में लपेटकर महिला की हत्या की. प्रथम दृष्टया पुलिस ने अंदाज़ा लगाया है की इस वारदात को लूट के ईरादे से आए लूटेरों ने अंजाम दिया है . बहरहाल अजनी पुलिस इस वारदात में शामिल आरोपियों का सुराग लगा रही है.

    मिली जानकारी के अनुसार मनीष नगर में रहनेवाले पेटकर परिवार के मकान में रविवार की दोपहर रौशनी पेटकर और उनकी बहु अपने 6 महीने के बच्चे के साथ मौजूद थी. उसी दौरान 2 नकाबपोश आरोपी घर के अंदर घुस आए. इन आरोपियों ने पहले तो चाकु की नोक पर रौशनी पेटकर को धमकाया लेकिन उनके चिल्लाने की कोशिश करने पर इन आरोपियों ने उनके मुह औए गले पर सेलोटेप लपेट दी. लूटेरे रौशनी पेटकर को बेहोश समझकर चोरी के इरादे से उपर की मंजिल पर जाने लगे लेकिन तभी रौशनी पेटकर की बहू निचे के माले पर आ गयी. लूटेरों ने उसके हांथ से बच्चे को छीन लिया और बच्चे के गले पर चाकू रख दिया और गहनों और पैसों क़े बारे में पूछ्ने लगे. लेकिन इसी बीच लूटेरों को दरवाजे पर किसी की आहट सुनाइ दी औऱ वो बच्चे को छोड़कर दिवार फांदकर भाग निकले. पड़ोस में रहनेवाले एक शक्श ने घर में दाखिल होकर बेहोशी की हालत में पड़ी रौशनी पेटकर को अस्पताल पहुंचाया लेकिन तब तक रौशनी पेटकर की मौत हो चुकी थी.

    ज्ञात हो की इस इलाके में पुलिस की पेट्रोलिंग कभी कभार ही होती है और पिछले एक महिने का रिकॉर्ड देख़ा जाए तो पता चलता है की सिर्फ एक इलाके में ही तकरीबन 7 चोरियां हो चुकी है ऐसे में पुलिस की खाकी वर्दी जनता की सुरक्षा में अपना काम कितनी सजगता से कर रही है इसका सबूत मिलता है. बहरहाल दिन दहाड़े हुई इस हत्या की वारदात से पुलिस महकमें में खलबलि मच गयी है. अजनी पुलिस और अपराध शाखा आरोपिओ का सुराग लगाने में जुट गयी है.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145