Published On : Thu, Jul 10th, 2014

नांदागोमुख : पांढुर्णा से धापेवाड़ा तक निकली पद यात्रा दिंडी

Advertisement


नांदागोमुख

padyatra
हर साल की तरह इस साल भी 6 जुलाई रविवार को श्री क्षेत्र पांढुर्णा से धापेवाड़ा तक मामा वारकरी पद यात्रा दिंडी का आयोजन किया गया. इसमें 50 से अधिक महिला व पुरुषों ने भाग लिया. सबसे पहले सभी पदयात्रियों ने श्री विट्ठल-रुख्मिणि देवस्थान पर पूजा- अर्चना की. इस मंदिर के पुजारी विजय, श्रीमती नीमबाई और पुष्प विजय भारती ने वारकरियों से वैदिक पद्धति से पूजा-अर्चना करवाई.

दूसरे दिन यह पदयात्रा सुबह 10 बजे धापेवाड़ा की ओर निकली. यहां पहुंचने पर युवा वर्ग ने इन पदयात्रियों का स्वागत कर उनके ठहरने की व्यवस्था सावनेर के अरुण पाटिल के यहां की. पदयात्रियों ने प्रशासन से उचित व्यवस्था करने की अपील की है, ताकि आगामी 13 जुलाई को होने वाले पालकी पूजन में किसी तरह की अड़चन न आए. यात्रा और पूजापाठ के दौरान भगवान श्री विट्ठल-रुखमाई से बारिश के लिए प्रार्थना की गई.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement