Published On : Mon, Aug 11th, 2014

धारणी : नाबालिक बेटी का सौदागर गिरफ्तार


धारणी में सगे पिता की करतूत

2 महिलाओं समेत 4 पकड़ाये

धारणी

Advertisement

अपनी ही सगी बेटी को बेचने का प्रयास करने वाले एक पिता को उसके अन्य 4 साथियों के साथ शनीवार की देर रात पुलिस ने धर दबोचा. पुलिस ने यह कार्रवाई नाबालिग बेटी की शिकायत पर की. मामले को मानव तस्करी से जोड़ा जा रहा रहा है. पुलिस ने इन सभी आरोपियों को रविवार को न्यायाधीश के सामने पेश किया. हालांकी न्यायाधीश के अनुसार यह मामला उनके अधिकार क्षेत्र से बाहर है. फिर भी उन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए इन आरोपियों को 2 दिन का पीसीआर देकर सभी आरोपियों को अचलपुर सेशन कोर्ट के सामने पेश करने को कहा.

Advertisement

2 महिलाये भी शामिल
पुलिस रिपोर्ट में नाबालिग ने बताया की उसके पिता ने शनिवार को उसका सौदा मध्यप्रदेश के एक व्यक्ति के साथ कर दिया था. इसकी भनक लगते ही यह युवती घबरा गई और उसने तुरंत थाने पहुंचकर आप बीती सुनाई. अपने पिता रामप्रसाद खंजरु जांबेकर (45) धारणी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. इसके साथ ही अन्य बिचौलियों को भी उसने आरोपी बनाया है. इन आरोपियों में अनिल जगदीश मालवीय (वऱ्हाड एमपी), अर्चना खां(30) धारणी, जगदीश साहबलाल यादव (गौरखेड़ा एमपी) व एक अन्य महिला कमली (धारणी) का समावेश है.

पुलिस ने दिखाई तत्परता
शहर के वार्ड क्र 1 में शनिवार की रात एक नाबालिग को बेचे जाने का प्रयास किये जाने की रिपोर्ट के बाद हरकत में आयी पुलिस ने जबरदस्त तत्परता दिखाई. उल्लेखनीय है की आदिवासी बहुल क्षेत्र की भोली भाली लड़कियों को बहला फुसलाकर आस-पास के राज्यों में बेचे जाने के मामले इसके पहले भी उजागर हो चुके है. लेकिन नाबालिग के साहस के कारण ही आज वह चंगुल से निकल सकी. फ़िलहाल यह नाबालिग अपनी माँ के सुरक्षित साये में है. मामले की जांच पुलिस निरीक्षक रशीद शेख, दुय्यम थानेदार चव्हाण कर रहे है. थानेदार ने आवाहन किया की क्षेत्र में किसी भी तरह की ऐसी कोई घटना की शिकार है, या होने अंदेशा होता है तो तुरंत पुलिस को सूचित करे. पुलिस हमेशा नागरिको व खासकर महिलाओं व नाबालिगों पर अत्याचार नहीं होने देंगी.

Representational Pic

Representational Pic

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement